• Hindi News
  • Rajya
  • Madhya Pradesh
  • Indore
  • News
  • ‘जग घूमेया’ गाने से पहले ट्रेडिशनल सिंगिंग कभी नहीं की थी मैंने : भसीन

‘जग घूमेया’ गाने से पहले ट्रेडिशनल सिंगिंग कभी नहीं की थी मैंने : भसीन / ‘जग घूमेया’ गाने से पहले ट्रेडिशनल सिंगिंग कभी नहीं की थी मैंने : भसीन

News - “भारतीय गायकी के बारे में मैं न के बराबर जानती थी। मैं वेस्टर्न स्टाइल पॉप गाती थी। इंडस्ट्री में आई तो यही मन में...

Mar 29, 2018, 03:05 AM IST
‘जग घूमेया’ गाने से पहले ट्रेडिशनल सिंगिंग कभी नहीं की थी मैंने : भसीन
“भारतीय गायकी के बारे में मैं न के बराबर जानती थी। मैं वेस्टर्न स्टाइल पॉप गाती थी। इंडस्ट्री में आई तो यही मन में था कि इसी जॉनर में गाऊंगी। एलबम के लिए गाऊंगी व अपने ग्रुप के साथ शोज़ करूंगी, लेकिन जब मैंने फिल्म फैशन में गीत “कुछ खास है’ किया तो पता लगा कि इंडियन स्टाइल नाम की चीज भी है। वहीं से मेरी सोच बदली।’ बता रही हैं बॉलीवुड सिंगर नेहा भसीन। वे शहर आई थीं। जग घूमेया, दिल दी या गल्लां, धुनकी जैसे पॉपुलर गीत गाए हैं नेहा ने। इन सॉन्ग्स की मेकिंग से जुड़े अनुभव बताए नेहा ने।

वे बोलीं- ज्यादा सीखने की जरूरत थी। खुद पर और काम करना था। क्योंकि एक तरह से यह मेरे लिए बहुत बड़ा बदलाव था। मैं अपने कॅरियर में 10 साल पीछे गई। दोबारा शुरुआत की। क्योंकि मुझे वन सॉन्ग वंडर नहीं बनना था। एक ऐसी छवि नहीं बनानी थी कि मेरी पहचान एक गीत से ही हो। बल्कि मैं बहुत काम करने की चाहत लिए आई थी। ताकि अगर लोग 10 साल बाद भी मेरे गीत सुनें तो मुझे याद करें। कहें कि क्या आवाज थी। मेंने सीखना शुरू किया।

इंडियन क्लासिकल म्यूज़िक के बेसिक्स सीखने से शुरुआत की। इंडियन क्लासिकल की ट्रेनिंग और रियाज़ आज तक जारी है। इससे गले में सारी बातें आती हैं जो अापकी अलग जगह बनाती है। हालांकि बॉलीवुड में मेरा अनुभव है कि जब किसी गाने के लिरिक्स मीनिंगफुल होते हैं तो ही सुर असर करते हैं। बिलकुल ऐसा ही हुआ जब मैंने जग घूमेया, धुनकी, दिल दिया गल्लां गाया।

Artist’s Speak

‘धुनकी’ गीत तो जैसे मेरे लिए ही लिखा गया था

मैंने जग घूमेया, धुनकी, दिल दी यां गल्लां किया। ये तीनों गीत मेरे दिल के करीब हैं। अकसर लोगों को गाने मिलते हैं, लेकिन ये गाने तो मानो मेरे लिए ही बने थे। धुनकी की बात करूं तो यह पूरी तरह से मुझे बयां करता है। जैसी मैं रियल लाइफ में हूं। यह मेरे कॅरिअर का काफी आसान गीत है।

दिल दी यां गल्लां के लिए प्रैक्टिस करती थी

जग घूमेया का मेल वर्जन विशाल शेखर ने किया, लेकिन प्रोडक्शन टीम के कहा कि फीमेल वर्जन भी होना चाहिए। मेरी आंखों के सामने ही पूरा गीत बना। इस बात की चिंता नहीं थी कि लोग क्या कहेंगे। बल्कि ज़हन में यह था कि हम इसे निभा पाएंगे या नहीं। इस गीत के बाद ही मेरी ट्रेडिशनल सिंगिंग के लिए आवाज खुली। दिल दी यां गल्ला के लिए काफी ज्यादा एक्साइटेड थी। मैं उसके लिए तैयारी करके स्टूडियो जाती थी। यह सिलसिला एक हफ्ते तक चला। तैयार होकर जाने से अलग ही कॉन्फिडेंस आता है आवाज़ में।

X
‘जग घूमेया’ गाने से पहले ट्रेडिशनल सिंगिंग कभी नहीं की थी मैंने : भसीन
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना