• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • शहर की 25 वर्षीय सुरभि ने छोड़ा 20 लाख का पैकेज, 18 को मंदसौर में लेंगी दीक्षा
--Advertisement--

शहर की 25 वर्षीय सुरभि ने छोड़ा 20 लाख का पैकेज, 18 को मंदसौर में लेंगी दीक्षा

स्कीम-71 निवासी 25 वर्षीय सुरभि संघवी सांसारिक जीवन छोड़कर 18 अप्रैल को मंदसौर में दीक्षा लेंगी। सुरभि ने एमबीए की...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:25 AM IST
स्कीम-71 निवासी 25 वर्षीय सुरभि संघवी सांसारिक जीवन छोड़कर 18 अप्रैल को मंदसौर में दीक्षा लेंगी। सुरभि ने एमबीए की पढ़ाई की है। वे सॉफ्टवेयर कंपनी में कार्यरत थीं। 20 लाख का पैकेज छोड़ वे जैनेश्वरी दीक्षा लेंगी। दीक्षा के पहले श्री साधुमार्गी जैन समता संघ ने रविवार को सम्मान किया। समता संघ के विनोदकुमार वोरा और तेजकुमार तांतेड़ ने बताया दीक्षार्थी के सम्मान समारोह में चंदनमल चौरड़िया, डॉ. प्रकाश बांगानी, वीरेंद्र जैन आदि मौजूद थे।

दीक्षा लेने वाली सुरभि ने बताया उन्होंने कहा- संयम और वैराग्य मार्ग ही संसार से मुक्ति का मार्ग है। जीवन की खुशियां बड़े पैकेज से नहीं, अंतर्मन से प्राप्त कर सकते हैं। परिवार के लोगों ने तीन महीने तक समझाने की कोशिश की, लेकिन मैंने तय कर लिया था कि दीक्षा लेना है। परिवार के लोगों को मनाया, आखिर में सभी मान गए। उन्होंने कहा- आज सभी का प्रयास रहता है कि अच्छा जॉब, अच्छी सैलेरी हो, लेकिन हम उस पर विचार नहीं करते कि आखिर हमारी असल खुशी किसमें है।

श्री साधुमार्गी जैन समता संघ के पदाधिकारियों ने सुरभि का सम्मान किया।

28 वर्षीय सिद्धा दीदी 25 को श्रवणबेलगोला में लेंगी दीक्षा

सूर्यदेव नगर निवासी 28 वर्षीय सिद्धा दीदी 25 अप्रैल को श्रवणबेलगोला (कर्नाटक) में दीक्षा लेंगी। दीक्षा से पहले राजेंद्र सूरीश्वरद्वार से बैंडबाजे के साथ शोभायात्रा निकाली गई। इसमें दीक्षार्थी को बग्घी में बैठाया गया। यात्रा के समापन पर उनका सम्मान किया गया। इस मौके पर उनके माता-पिता राजेश-संगीता पंचोलिया सहित बड़ी संख्या में समाजजन मौजूद थे। दीक्षार्थी ने कहा- सभी ने मुझसे पूछा कि दीक्षा लेने की इतनी जल्दी क्यों? तो मैंने कहा- इसका जवाब मेरे पास नहीं है। हां, इतना जरूर कह सकती हूं कि गुरु के आशीर्वाद से मुझे दीक्षा लेने का सौभाग्य मिल रहा है। दीक्षा ही एकमात्र रास्ता है जिससे जीवन का कल्याण हो सकता है।

श्रीजी का अभिषेक करतीं सिद्धा दीदी व अन्य।