• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • बोधिवृक्ष के एक पौधे से तैयार हुए 500, इस साल बारिश में शहरभर में लगाएगा वन विभाग
--Advertisement--

बोधिवृक्ष के एक पौधे से तैयार हुए 500, इस साल बारिश में शहरभर में लगाएगा वन विभाग

वन विभाग इस साल बारिश में शहरभर में 500 बोधवृक्ष लगाएगा। विभाग ने पिछले साल प्रयोग बतौर एक बोधिवृक्ष का पौधा मालवा...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:25 AM IST
वन विभाग इस साल बारिश में शहरभर में 500 बोधवृक्ष लगाएगा। विभाग ने पिछले साल प्रयोग बतौर एक बोधिवृक्ष का पौधा मालवा की मिट्‌टी में लगााया था। यह प्रयोग सफल रहा। पौधा पनप गया तो 500 से ज्यादा पौधे तैयार कर लिए गए हैं। यह वही पेड़ है जिसके नीचे बैठकर भगवान बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था।

वन संरक्षक आरपी राय के मुताबिक बोधिवृक्ष पीपल की ही एक प्रजाति है। हालांकि हमारी नर्सरी में जो पौधे तैयार किए हैं वह बौद्धगया में स्थापित बोधिवृक्ष की ही प्रजाति के हैं। इसके कुछ पेड़ कजलीगढ़ में हैं, लेकिन वह बौद्ध गया वाले पेड़ की प्रजाति नहीं है। आगामी बारिश में यह पौधे कलेक्टर, संभागायुक्त, बीएसएफ, पुलिस स्कूल, कॉलेज परिसर में लगाए जाएंगे। आम लोगों के लिए भी यह पौधे उपलब्ध रहने पर बेचे जाएंगे। बकायदा पौधे लगाने के बाद देखभाल की व्यवस्था भी की जाएगी। संबंधित विभाग के परिसर के प्रभारी से अनुरोध किया जाएगा कि पौधे पर नजर रखें।

विकल्प में मिली जमीनों पर पौधे लगेंगे

विभाग की विभिन्न योजनाओं में अधिग्रहित की गई जमीनों के बदले जो जमीन मिली है वहां पर भी पौधे लगाए जाएंगे। तालाब, आईआईटी, रेलवे लाइन, बिजली लाइन, पानी की पाइप लाइन के लिए जमीन ली गई है। इसके विकल्प में मिली जमीनों पर पौधे लगाए जाएंगे।

भास्कर संवाददाता | इंदौर

वन विभाग इस साल बारिश में शहरभर में 500 बोधवृक्ष लगाएगा। विभाग ने पिछले साल प्रयोग बतौर एक बोधिवृक्ष का पौधा मालवा की मिट्‌टी में लगााया था। यह प्रयोग सफल रहा। पौधा पनप गया तो 500 से ज्यादा पौधे तैयार कर लिए गए हैं। यह वही पेड़ है जिसके नीचे बैठकर भगवान बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था।

वन संरक्षक आरपी राय के मुताबिक बोधिवृक्ष पीपल की ही एक प्रजाति है। हालांकि हमारी नर्सरी में जो पौधे तैयार किए हैं वह बौद्धगया में स्थापित बोधिवृक्ष की ही प्रजाति के हैं। इसके कुछ पेड़ कजलीगढ़ में हैं, लेकिन वह बौद्ध गया वाले पेड़ की प्रजाति नहीं है। आगामी बारिश में यह पौधे कलेक्टर, संभागायुक्त, बीएसएफ, पुलिस स्कूल, कॉलेज परिसर में लगाए जाएंगे। आम लोगों के लिए भी यह पौधे उपलब्ध रहने पर बेचे जाएंगे। बकायदा पौधे लगाने के बाद देखभाल की व्यवस्था भी की जाएगी। संबंधित विभाग के परिसर के प्रभारी से अनुरोध किया जाएगा कि पौधे पर नजर रखें।