--Advertisement--

साइकिल कचरा गाड़ियों की लाइफ पर दो अफसर आमने-सामने

इंदौर

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:30 AM IST
इंदौर
शहर के 85 वार्डों में घर-घर से कचरा उठाने के लिए खरीदी गई 350 साइकिल कचरा गाड़ियों को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। अपर आयुक्त रोहन सक्सेना लाइफ कम होने के चलते इनका उपयोग नहीं होना बता रहे हैं। उनका कहना है कि साइकिल कचरा गाड़ियां ज्यादा वजन उठाने में सक्षम नहीं हैं। बार-बार इनके टायर खराब होंगे। अन्य मेंटनेंस भी निकलेगा, इसीलिए इनका उपयोग नहीं हो रहा है। उधर वर्कशॉप इंचार्ज सुमित अस्थाना इस बात से साफ इंकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि साइकिल कचरा गाड़ियां मजबूत हैं। 8-10 साल तक इनका उपयोग किया जा सकता है। साल-डेढ़ साल में सिर्फ इनके टायर बदलने की जरूरत होगी। वह भी मामूली खर्च में बदल जाएंगे। उनके मुताबिक स्वास्थ्य विभाग को इन गाड़ियों का उपयोग तय करना है। अगर इनकी लाइफ कम बताकर उपयोग नहीं हो रहा है तो यह गलत है।
वर्कशॉप प्रभारी : 8-10 साल से ज्यादा है साइकिल कचरा गाड़ी की लाइफ

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..