• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Indore
  • News
  • पार्षद से बोले लालवानी निगम जाते नहीं, यहां मुद्दे उठाते हो, मेंदोला बोले नहीं सुनना तो जाओ
--Advertisement--

पार्षद से बोले लालवानी-निगम जाते नहीं, यहां मुद्दे उठाते हो, मेंदोला बोले-नहीं सुनना तो जाओ

News - कलेक्टोरेट में गुरुवार को जिला योजना समिति की बैठक में आईडीए चेयरमैन शंकर लालवानी और विधायक रमेश मेंदोला के बीच...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:30 AM IST
पार्षद से बोले लालवानी-निगम जाते नहीं, यहां मुद्दे उठाते हो, मेंदोला बोले-नहीं सुनना तो जाओ
कलेक्टोरेट में गुरुवार को जिला योजना समिति की बैठक में आईडीए चेयरमैन शंकर लालवानी और विधायक रमेश मेंदोला के बीच जमकर बहस हुई। पार्षद मुन्नालाल यादव ने पानी की टंकी का मुद्दा उठाया। इस पर लालवानी ने कहा- नगर निगम में तो आप जाते नहीं, यहां मुद्दे उठा रहे हैं। यह जिला योजना समिति की बैठक है। इस पर मेंदोला बिफर गए। उन्होंने कहा कि यह नगर सरकार है। यहां सभी तरह के मुद्दे उठते हैं। आपको सुनना हो तो सुनो। नहीं तो चले जाओ। वित्तमंत्री जयंत मलैया ने दोनों को शांत कराया। इसके बाद विधायक मनोज पटेल और कुछ अन्य पार्षदों ने भी जब नगर निगम से जुड़े मुद्दे उठाए, तब फिर मेंदोला ने लालवानी पर व्यंग्य कसते हुए कहा- आप इन्हें रोक कर कहो कि निगम के मुद्दे हैं। मेंदोला ने अपने विधानसभा क्षेत्र में आईडीए कॉम्प्लेक्स बनाने पर भी रोक लगाने की मांग की। उन्होंने कहा कि यहां खेल का मैदान है, कॉम्प्लेक्स की जरूरत नहीं है। बैठक में मेंदोला ने मालवा मिल चौराहे पर संत बालिनाथ की प्रतिमा लगाने का प्रस्ताव रखा, जिसे प्रभारी मंत्री ने मंजूर कर दिया।

गुप्ता बोले- झोपड़ी के बिल हजारों में भेज रही बिजली कंपनी

विधानसभा क्षेत्र- 1 के विधायक सुदर्शन गुप्ता ने बिजली कंपनी की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा- झोपड़ी के भी भारी बिल भेजे जा रहे। दलाल रुपए लेकर बिल कम करा देते हैं। उपभोक्ता को भगा दिया जाता है या एफआईआर दर्ज करा दी जाती है। विधायक उषा ठाकुर, पटेल और महेंद्र हार्डिया ने भी इस बात का समर्थन किया। वित्त मंत्री ने किसी पर भी एफआईआर नहीं कराने के आदेश दिए। गुप्ता ने मतदाता के लिए डोर टू डोर चले अभियान में बीएलओ के नहीं आने, बाणगंगा अस्पताल हैंडओवर करने और आवारा कुत्तों और सूअर की समस्या उठाई। विधायक पटेल व राजेश सोनकर ने भी कहा कि गांवों में सूअरों के कारण फसल खराब हो रही है।

विधायक पटेल ने महापौर से कहा- आप तो फोन ही नहीं उठातीं

देपालपुर विधायक पटेल ने कहा- मेरे विधानसभा के चार वार्ड नगरीय सीमा में आते हैं। यहां कई समस्याएं हैं। कोई नहीं सुनता। महापौर मालिनी गौड़ ने कहा- आप मुझे बताइए। मैं निराकरण करा दूंगी। इस पर पटेल ने कहा-आप फोन ही नहीं उठातीं।

वित्त मंत्री और कांग्रेसियों में विवाद

आईडीए की योजनाओं की शिकायत लेकर मप्र कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव रघु परमार, अनूप शुक्ला व अन्य कांग्रेसी दोपहर में रेसीडेंसी कोठी पहुंचे। वित्त मंत्री जब आए तो उन्होंने कहा कि अभी समय नहीं है। बाद में मिलेंगे। इस पर कांग्रेसियों ने विवाद शुरू कर दिया। कहा कि हम एक घंटे से बैठे हैं। आप तो अंदर बजट देख रहे थे। बाद में वित्त मंत्री ने ज्ञापन लिया।

डीपीएस बस हादसे की मजिस्ट्रियल जांच पर सवाल

राऊ विधायक जीतू पटवारी की ओर से कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा बैठक में आए थे। उन्होंने कहा कि डीपीएस बस हादसे की मजिस्ट्रियल जांच में स्कूल प्रबंधन, एनएचएआई को जिम्मेदार तो माना गया, लेकिन नाम नहीं दिए गए। सभी के नाम शामिल कर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज हो। सलूजा ने कहा कि नगर निगम राऊ से कई टैक्स लेता है, लेकिन स्ट्रीट लाइट का बिल, रहवासी संघों को भरना पड़ रहा है। भंवरकुआं से तेजाजी नगर हिस्से के निर्माण का कार्य पहले पीडब्ल्यूडी करने वाला था, अब एनएचएआई करेगा। इसमें तीन साल लगेंगे, जबकि यह डेंजर जोन है।

X
पार्षद से बोले लालवानी-निगम जाते नहीं, यहां मुद्दे उठाते हो, मेंदोला बोले-नहीं सुनना तो जाओ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..