--Advertisement--

बीआरटीएस पर 10 महीने से नहीं हो पा रही सुनवाई

बीआरटीएस की रैलिंग हटाने और बसलेन में कार शुरू करने को लेकर दायर जनहित याचिका पर गुरुवार को भी सुनवाई नहीं हो पाई।...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 04:20 AM IST
बीआरटीएस की रैलिंग हटाने और बसलेन में कार शुरू करने को लेकर दायर जनहित याचिका पर गुरुवार को भी सुनवाई नहीं हो पाई। 10 महीने से यह मामला अंतिम बहस के लिए लगा है, लेकिन सुनवाई नहीं हो पा रही। गुरुवार को डिविजन बेंच के समक्ष केस लगा था। सरकारी वकील के उपस्थित नहीं होने पर केस को फिर आगे बढ़ाना पड़ा।

सामाजिक कार्यकर्ता किशोर कोडवानी ने यह याचिका दायर कर रखी है। लगभग चार साल से बसलेन में कारों की एंट्री पर अंतरिम रोक लगी है। 10 महीने पहले अंतिम सुनवाई के लिए केस निर्धारित किया था। नगर निगम, प्रशासन की तरफ से महाधिवक्ता को पक्ष रखना है। उनके नहीं आने के कारण भी सुनवाई नहीं हो पाई है। वहीं याचिकाकर्ता का कहना है एबी रोड पर बीआरटीएस वाले हिस्से का नोटिफिकेशन नहीं हुआ, कंपनी का मालिक भी तय नहीं है। बीआरटीएस की डिजाइन भी किसी सक्षम संस्था से स्वीकृत नहीं है। इन कारणों के चलते भी निगम, प्रशासन सुनवाई से बच रहे हैं।