--Advertisement--

प्रोफेसरों को कॉलेज में 7 घंटे रुकना अनिवार्य

News - अब नए सत्र से प्रोफेसर व लेक्चरर को कॉलेज में पूरे सात घंटे रुकना होगा। यूजीसी कॉलेजों के नियम-कायदों में बड़ा...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 04:20 AM IST
प्रोफेसरों को कॉलेज में 7 घंटे रुकना अनिवार्य
अब नए सत्र से प्रोफेसर व लेक्चरर को कॉलेज में पूरे सात घंटे रुकना होगा। यूजीसी कॉलेजों के नियम-कायदों में बड़ा बदलाव करेगा। प्रस्तावित नियमों पर सुझाव और आपत्ति आमंत्रित की है। इस नियम के लागू होने के बाद स्टूडेंट की समस्याएं काफी हद तक कम हो सकेंगी। समाधान के लिए पीरियड के बाद भी प्रोफेसर उपलब्ध रहेंगे।

अतिथि विद्वानों को नियमित जितना वेतन

यूजीसी ने अतिथि विद्वानों को भी बड़ी राहत दी है। लंबे समय से नियमित शिक्षकों के बराबर वेतन की मांग कर रहे यूजीसी ने कांट्रेक्ट टीचर्स को नए नियमों के तहत रैगुलर अध्यापकों के बराबर वेतन देने के निर्देश जारी किए हैं। हालांकि साथ ही सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिए हैं कि शिक्षक अनुबंध पर रखने की बजाय सीधी भर्ती की जाए। शिक्षकों में डिजिटल लर्निंग को भी प्रमोशन का आधार बनाया जाएगा। अब ऑनलाइन कोर्सेस को बढ़ावा दिया जाएगा, ताकि प्रोफेसरों की कमी के कारण जो दिक्कतें आ रही हैं दूर हो सकें।

X
प्रोफेसरों को कॉलेज में 7 घंटे रुकना अनिवार्य
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..