• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • दवा बाजार से कागज में लपेटकर बदमाशों को सप्लाय होती हैं नशे की गोलियां, पांच आरोपी पकड़ाए
--Advertisement--

दवा बाजार से कागज में लपेटकर बदमाशों को सप्लाय होती हैं नशे की गोलियां, पांच आरोपी पकड़ाए

शहर में नशे की प्रतिबंधित दवाएं बदमाशों को दवा बाजार से ही सप्लाय हो रही हैं। यहां थोक व्यापारियों के यहां कुछ...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:45 AM IST
शहर में नशे की प्रतिबंधित दवाएं बदमाशों को दवा बाजार से ही सप्लाय हो रही हैं। यहां थोक व्यापारियों के यहां कुछ कर्मचारी प्रतिबंधित दवाओं के कार्टून से पत्ते चुराकर कागजों में लपेटकर कमीशन पर मेडिकल स्टोरों तक पहुंचा रहे हैं या सीधे बदमाशों को बेच रहे हैं। इस बात का खुलासा बुधवार को परदेशीपुरा पुलिस ने किया है। पुलिस ने 690 गोलियों के साथ एक नाबालिग सहित पांच लोगों को पकड़ा है। आरोपियों में एक मेडिकल स्टोर संचालक भी शामिल है।

एएसपी प्रशांत चौबे ने बताया कि सार्थक (19) पिता अजय शर्मा निवासी सेक्टर ए सुदामा नगर और मयंक (20) पिता चंद्रभूषण पाल निवासी गुमाश्ता नगर को पकड़ा। तलाशी लेने पर सार्थक के पास से एप्राजोलम की 255 गोलियां और मयंक के पास 375 गोलियां मिलीं। पूछताछ में इन्होंने अपने एक नाबालिग साथी की भी जानकारी दी। जब टीम ने उसे भी पकड़ा तो उसके पास से भी 60 गोलियां मिल गईं। आरोपी सार्थक और मयंक दोनों के जानलेवा हमले और लूट के आपराधिक रिकॉर्ड हैं।

नशे की गोलियों के साथ पकड़ाए आरोपी सार्थक शर्मा व मयंक पाल।

कमीशन पर कराता था उपलब्ध

एएसपी चौबे ने बताया पकड़ाए दोनों आरोपियों से पूछताछ में ये पता चला है कि इन्हें ये टैबलेट दवा बाजार में काम करने वाला अंकुश नामक युवक कागज में लपेटकर लाकर देता था। अंकुश उक्त प्रतिबंधित गोलियां अन्नपूर्णा क्षेत्र स्थित शालिमार मेडिकल स्टोर संचालक आकाश सिंह को भी कमीशन पर सप्लाय करता था। आकाश भी बदमाशों को ये गोलियां उपलब्ध कराता था। पुलिस ने अंकुश और आकाश को भी गिरफ्तार कर लिया है।