• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • पीथमपुर में 9 माह में प्लांट तैयार कर तीन और करार किए हांगकांग के उद्योगपति ने
--Advertisement--

पीथमपुर में 9 माह में प्लांट तैयार कर तीन और करार किए हांगकांग के उद्योगपति ने

पीथमपुर में उद्योग लगाने के लिए जमीन आवंटन से लेकर सारी प्रक्रिया इतनी तेजी से हो रही है कि हांगकांग से आए एक...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:45 AM IST
पीथमपुर में उद्योग लगाने के लिए जमीन आवंटन से लेकर सारी प्रक्रिया इतनी तेजी से हो रही है कि हांगकांग से आए एक उद्योगपति ने नौ माह में ही एक प्लांट लगाकर तैयार कर दिया। सेज में लगे इस प्लांट की लागत 80 करोड़ है और इसकी औपचारिक शुरुआत अब अप्रैल में हो रही है। इससे करीब 200 लोगों को सीधे रोजगार मिल सकेगा।

मप्र शासन और एकेवीएन इंदौर की इस तेज प्रक्रिया से खुश हांगकांग के उद्योगपति प्रेमचंद अलदासनी ने मंगलवार को एकेवीएन के साथ तीन और प्लांट शुरू करने का करार कर लिया। एकेवीएन ने भी हाथोंहाथ दो और प्लांट के लिए जमीन का आवंटन पत्र उन्हें और उनके पुत्र अक्षय अलदासनी को सौंप दिया। उद्योगपति ने बताया उनकी कंपनी बालाजी स्टेरायएड एडं हार्मोंस प्रालि सेज में तीन और बीजेपुर में तीन प्लांट लगा रहे हैं। सेज के प्लांट में वह दवा पावडर बनाएंगे, साथ ही यहां पर विटामिन बी 12 बनाने का प्रदेश में पहला प्लांट भी स्थापित किया जा रहा है। इन सभी उत्पादों का निर्यात हांगकांग किया जाएगा। वहां कंपनी के डायरेक्टर व उनके बड़े पुत्र सिद्धार्थ अलदासनी द्वारा कंपनियों के साथ करार कर लिए गए हैं। सेज और बीजेपुर में उनकी कंपनी द्वारा छह प्लांट लगाए जा रहे हैं, जिससे 800 लोगों को सीधे तौर पर रोजगार मिलेगा और यह सभी चरणबद्ध तरीके से एक से दो साल में पूरे कर लिए जाएंगे।

जमीन चिह्नित करते ही एकेवीएन तत्काल दे दी थी मंजूरी

एकेवीएन एमडी कुमार पुरुषोत्तम ने बताया कि अक्टूबर 2016 में हुई ग्लोबल समिट के दौरान अलदासनी यहां आए थे। उन्होंने अपना प्रोजेक्ट बताया और बाद में फिर उन्होंने अपने प्रोजेक्ट के लिए जमीन चिह्नित की, इसके बाद सारी मंजूरी तत्काल दे दी गई और उन्होंने भी नौ माह में इस प्लांट को बनाकर तैयार कर दिया गया।