Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» स्वर्ण चोला चढ़ाया, पगड़ी में सजे हनुमानजी

स्वर्ण चोला चढ़ाया, पगड़ी में सजे हनुमानजी

हनुमान जयंती पर हनुमान मंदिरों में पूजन-अभिषेक हुआ। चोला चढ़ाया गया। साथ ही फूल बंगला सजा। सुबह से रात तक हनुमान...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 04:45 AM IST

स्वर्ण चोला चढ़ाया, पगड़ी में सजे हनुमानजी
हनुमान जयंती पर हनुमान मंदिरों में पूजन-अभिषेक हुआ। चोला चढ़ाया गया। साथ ही फूल बंगला सजा। सुबह से रात तक हनुमान चालीसा की चौपाइयां गूंजीं। शोभायात्रा निकली। दर्शन के लिए दिनभर भक्तों की आवाजाही चलती रही। रात को महाआरती हुई। साथ ही सुंदरकांड का पाठ हुआ। प्राचीन वीर बगीची में स्वर्ण चोला चढ़ाया गया। डेढ़ किलो सोने से भगवान को सजाया गया। मंदिरों में दर्शन के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ी। कई स्थानों से शोभायात्रा भी निकाली गई, जिसमें सैकड़ों श्रद्धालु शामिल हुए।

यशवंतगंज में हनुमानजी का आकर्षक शृंगार।

भास्कर संवाददाता | इंदौर

पंचकुइया स्थित वीर अलीजा सरकार हनुमान मंदिर में स्वर्ण आभूषणों से शृंगार किया गया। साथ ही स्वर्ण चोला चढ़ाया गया। दर्शन के लिए हजारों भक्त शामिल हुए। शाम को ब्रह्मचारी पवनानंद महाराज के सान्निध्य में महाआरती भी हुई। भगवान को 100 ग्राम की स्वर्णमाला, 350 ग्राम का हार, 390 ग्राम का कंठा, 150 ग्राम के कुंडल, 500 ग्राम के स्वर्ण मुकुट से शृंगारित किया गया। वहीं वीर अलीजा सरकार को 15 ग्राम स्वर्ण के बरक से भी सजाया गया था। रात को महाप्रसादी हुई।

अखंड रामायण पाठ हुआ

श्री श्रीविद्याधाम पर हनुमान जयंती महोत्सव महामंडलेश्वर स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती के सान्निध्य एवं आचार्य पं. राजेश शर्मा के निर्देशन में मनाया गया। सुबह अखंड रामायण पाठ हुआ। इसके बाद महाआरती की गई।

हंसदास मठ पर लगा 56 भोग

पीलियाखाल स्थित प्राचीन हंसदास मठ पर पंचमुखी चिंताहरण हनुमानजी का पंचामृत से अभिषेक किया गया। मठ के पं. पवन शर्मा ने बताया हंस पीठाधीश्वर महंत रामचरणदास महाराज के सान्निध्य में सुबह अखंड रामायण पाठ की पूर्णाहुति भी हुई। शाम को भजन संध्या हुई। भगवान को 56 भोग लगाया गया।

11 मुखी प्रतिमा का अभिषेक

नौलखा स्थित मनकामेश्वर कांटाफोड़ शिव मंदिर पर हनुमानजी की 11 मुखी प्रतिमा का बड़ी संख्या में भक्तों की मौजूदगी में महाभिषेक कर महाआरती की गई।

वीर बगीची में स्वर्ण आभूषण से सजाया।

सुबह महाआरती, शाम को भंडारा

इंद्रपुरी कॉलोनी में हनुमान जन्मोत्सव मनाया गया। इंद्रपुरी शिव मंदिर समिति द्वारा आयोजित महोत्सव में विशेष शृंगार कर महाआरती की गई। इस दौरान भजनों के साथ ही दिनभर विभिन्न अनुष्ठान हुए। मंदिर समिति के रतन अग्रवाल और प्रमोद टंडन ने बताया शाम को महाप्रसादी हुई। इसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए।

सुभाष चौक स्थित हनुमान मंदिर में सुबह से दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की लंबी कतारें लगीं।

गीता भवन में जयंती महोत्सव का समापन

गीताभवन में जगद्‌गुरु रामानंदाचार्य श्रीमठ काशी पीठाधीश्वर स्वामी रामनरेशाचार्य के सान्निध्य में चल रहे राम-हनुमान जयंती महोत्सव का समापन शनिवार को हुआ। इससे पहले हनुमानजी का अभिषेक एवं महाआरती हुई। बाद में राम दरबार मंदिर में भी सैकड़ों भक्तों ने पूजा-अर्चना की। सत्संग सभा में जगद्‌गुरु रामनरेशाचार्यजी ने कहा- राम के बिना हनुमान और हनुमान के बिना राम की कल्पना भी संभव नहीं है। भक्ति भक्त और भगवान को जोड़ने का सरल राजपथ है।

सुभाष चौक स्थित मंदिर में फूल बंगला सजा।

फूल बंगला सजाया

एरोड्रम रोड स्थित श्रीदास हनुमान बगीची में भगवान का विशेष शृंगार किया गया। महाआरती हुई। मंदिर में फूल बंगला सजाया गया। शाम को 1008 दीपों से महाआरती हुई। आरती के पश्चात श्रीदास हनुमान बगीची में अन्नकूट महोत्सव का आयोजन किया गया। इसमें हजारों भक्तों ने भोजन प्रसादी ग्रहण की।

मुकेरीपुरा में पगड़ी पहनाकर किया शृंगार।

महाआरती के बाद हुआ भंडारा

वीआईपी रोड स्थित प्राचीन श्री जानकीनाथ रोकड़िया हनुमान मंदिर में चोला शृंगार और छप्पन भोग लगाया गया। पं. ब्रजेश पाराशर, मुख्य पुजारी सुनील स्वामी व मंदिर विकास समिति के दिलीप सोनी ने बताया शाम 7 बजे महाआरती के बाद भंडारे की शुरुआत हुई जो देर रात तक जारी रहा।

मधुमिलन चौराहे पर श्रीकृष्ण संग हनुमानजी।

तिलक नगर से शोभायात्रा

तिलक नगर स्थित सालासर बालाजी मंदिर से शोभायात्रा निकाली गई। पूजन-हवन के बाद यात्रा का शुभारंभ भगवान हनुमानजी के जयघोष के साथ हुआ। यात्रा तिलक नगर, कृषि विहार, बख्तावरराम नगर, वंदना नगर होते हुए पुन: मंदिर परिसर पहुंची। यात्रा में महामंडलेश्वर दादू महाराज, विधायक महेंद्र हार्डिया सहित अन्य लोग शामिल हुए।

अन्नपूर्णा मंदिर से निकली यात्रा

श्रीराम भक्त हनुमान मंडल द्वारा हनुमान जयंती पर अन्नपूर्णा मंदिर से कर्बला मैदान तक यात्रा निकाली गई। इसमें बैंड-बाजे, घोड़े, बग्गी और हनुमानजी की झांकी शामिल हुई। यात्रा में अखाड़ों के कलाकारों ने भी अपनी कला का प्रदर्शन किया। यात्रा में श्रीरामजी का रथ आकर्षण का केंद्र था। यात्रा संयोजक भवानी कुशवाह ने बताया यात्रा में हाउसिंग बोर्ड अध्यक्ष कृ़ष्णमुरारी मोघे, मधु वर्मा, राकेश कुशवाह सहित बड़ी संख्या में भक्त शामिल हुए। यात्रा का विभिन्न मंचों से स्वागत किया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×