--Advertisement--

मिलें घाटा उठाकर निर्यात करने को तैयार नहीं

News - शकर उद्योग के एक अधिकारी ने कहा कि शकर निर्यात के लिए उठाए गए कदम केवल दिखावा है। निर्यात में होने वाले घाटे की...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:50 AM IST
मिलें घाटा उठाकर निर्यात करने को तैयार नहीं
शकर उद्योग के एक अधिकारी ने कहा कि शकर निर्यात के लिए उठाए गए कदम केवल दिखावा है। निर्यात में होने वाले घाटे की भरपाई कौन करेगा? शकर उद्योग 6 माह में करना है। जितनी मात्रा में निर्यात किया जाएगा, उसी मात्रा में अक्टूबर 2019 से सितंबर 2021 के बीच कच्ची शकर का आयात किया जा सकेगा।

कोटा बेचने की छूट

इसके अलावा छोटी शकर मिलें अपना कोटा बड़ी मिलों को बेच सकती हैं। वर्तमान में स्थिति यह है कि बंदरगाह के समीप होने पर 7.50 से 10 रुपए किलो का नुकसान उठाना पड़ सकता है। मिलों का मत है कि उच्च उत्पादन लागत की वजह से उन्हें काफी नुकसान हो रहा है। ऐसी स्थिति में शकर निर्यात के संयोग नहीं के समान है। इस विकट परिस्थिति में सर्वाधिक परेशानी गन्ना उत्पादक किसानों को हो रही है। उन्हें भुगतान कब मिलेगा, कोई नहीं जानता। महाराष्ट्र सरकार का झुकाव उद्योग की तरफ अधिक है। मिलें निर्यात के लिए विशेष प्रोत्साहन पैकेज की मांग कर रही हैं। चर्चा यह भी है कि महाराष्ट्र में बंदरगाह के समीप की मिलें कुछ मात्रा में निर्यात कर सकती हैं। शकर की आवक 4 ट्रक एवं 8 ट्रक का स्टॉक था। शकर में मांग सामान्य बनी रही। नारियल की आवक नहीं होने से छोटी भरती में वृद्धि की गई है। पिछले 4 से 6 दिनों से सूखे मेवों में ग्राहकी एकदम ठंडी पड़ गई है। गर्मी का प्रभाव बढ़ने गुड़ में मांग ठप पड़ गई।

सियागंज बाजार में शकर 3180 से 3230 गुड़ करेली भेली 2650 से 2700 लड्‌डू 3100 से 3200 कटोरा 2900 से 3000 ताराबर्फी 3900 हल्दी काढ़ी 11200 से 11500 लाल गाय 144 पावडर-501 1681 सुपर क्राउन 841 मयूर 1571 खोपरा गोला 153 से 164 खोपरा बूरा व्हील 4650 नाग 3225 सनगोल्ड 3225 लक्ष्य 3275 ताज 3700 साबूदाना 4200 से 4300 मीडियम 4400 से 4600 बेस्ट 4700 से 4850 ग्लास 5200 से 5800 वरलक्ष्मी 5000 1 किलो पैकिंग में 6160 सोल्जर 4500 सच्चामोती 5175 1 किलो में 6325 सच्चासाबू 5300 1 किलो में 5850 कालीमिर्च गारवल 425 से 430 एटम 435 से 445 मटरदाना 475 से 485 जीरा राजस्थान 155 से 165 ऊंझा हल्का 166 से 170 मध्यम 175 से 180 बेस्ट 195 से 220 सौंफ मोटी 75 से 90 मीडियम 95 से 115 बेस्ट 125 से 175 बारीक 170 से 190 नारियल मद्रास नया पानी 120 भरती 2100 से 2200 160 भरती 2700 से 2800 200 भरती 3125 से 3175 250 भरती 3325 से 3375 लौंग चालू 540 से 560 बेस्ट 600 से 630 दालचीनी 175 से 185 बेस्ट 190 जायफल 440 से 500 रुपए।

हल्दी-कालीमिर्च में मंदी

किराना बाजार में ग्राहकी कमजोर रही। हल्दी में मांग कम होने से भावों में कमी की गई है। कालीमिर्च के भावों में 2 रुपए की कमी की गई है। आवक कम होने से खोपरा बूरा में सुधार रहा। नागपुर से नाग ब्रांड खोपरा बूरा आ रहा है। व्यापारियों के अनुसार यह असली नहीं है।

X
मिलें घाटा उठाकर निर्यात करने को तैयार नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..