--Advertisement--

सरकार किसानों के हित में मंडी शुल्क में शीघ्र राहत दें

इंदौर| चना दाल में लोकल एवं दिसावर की मांग कमजोर रहने से चने में मांग कमजोर रही। अन्य राज्यों में चना मध्य प्रदेश से...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:50 AM IST
इंदौर| चना दाल में लोकल एवं दिसावर की मांग कमजोर रहने से चने में मांग कमजोर रही। अन्य राज्यों में चना मध्य प्रदेश से मंदा है, जिससे चना दाल की मांग बाहर से नहीं आ रही है। मांग के अभाव में डबल-डॉलर में भी नरमी रही। दालों में मांग कमजोर बनी हुई है। हरी सब्जियां, आलू और प्याज कम भाव पर बिक रहे हैं। मप्र सरकार किसान हितैषी है। मंडी शुल्क में शीघ्र राहत दें।

चना दाल अथवा बेसन में मांग के अभाव में दाल मिलों की चने में लेवाली कमजोर बनी हुई है। इसके अलावा महाराष्ट्र में चना इंदौर से सस्ता बिक रहा है, जिससे अन्य राज्यों की चना दाल में मांग नहीं के समान है। चने के अलावा अन्य दलहन चलाने वाली मिलें भी संकट के दौर से गुजर रही हैं। दालों में मांग केवल लोकलपूर्ता ही रह गई है। मिलें अन्य राज्यों से प्रतिस्पर्धा नहीं कर पा रही हैं। राज्य सरकार को किसानों को असल में राहत देना है तो मंडी शुल्क में कमी करें। अनेक विशेषज्ञों का मत है कि मंडी शुल्क का भार चाहे व्यापारियों के ऊपर थोपा गया है, किंतु यह सत्य नहीं है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..