--Advertisement--

मिलों पर किसानों का बकाया फिर सर्वोच्च स्तर पर, शकर में मांग कम

गन्ने के उत्पादन में वृद्धि, शकर की मांग में कमी से मिलें एवं किसान संकट में फसते नजर आ रहे हैं। दिसंबर अंत तक मिलों...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:15 PM IST
गन्ने के उत्पादन में वृद्धि, शकर की मांग में कमी से मिलें एवं किसान संकट में फसते नजर आ रहे हैं। दिसंबर अंत तक मिलों पर गन्ने का बकाया 9,576 करोड़ रुपए निकलने लगा है। यह वर्ष 2012 के बाद सर्वोच्च है। उस अवधि में 7,840 करोड़ रुपए की बकाया राशि निकल रही थी। भावों में भारी गिरावट के बाद भी शकर में मांग कमजोर बनी हुई है। पिछले महीने में केंद्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि मिलें शकर बेचने में जल्दबाजी न करें अन्यथा नुकसान की भरपाई नहीं कर पाएंगी और गन्ना किसानों को भुगतान में समस्या आएगी। किसान में असंतोष अलग से फैलेगा।

खपत में गिरावट

नोटबंदी और जीएसटी के बाद एक या अनेक कारणों से शकर की खपत में गिरावट आई है। वर्तमान में ब्याह-शादी का समय नहीं है। ठंड के सीजन में आइस्क्रीम और पेय पदार्थों की बिक्री कमजोर पड़ जाया करती है। इससे भाव बड़ी मात्रा में घटने के बाद भी खपत में वृद्धि नहीं हो रही है। बाजार में ऐसी चर्चा है कि शकर की मंदी को रोकने के लिए बंफर स्टॉक कर सकती है, निर्यात बढ़ाने के लिए निर्यात शुल्क वर्तमान में 20% उसे समाप्त कर निर्यात सब्सिडी दे सकती है। इस वजह से शकर टेंडरों में मांग रही और भावों में 10 से 15 रुपए की तेजी आ गई। कालीमिर्च के भावों में 5 रुपए का और सुधार आ गया।

सियागंज बाजार में शकर 3170 से 3200 गुड़ करेली भेली 2650 से 2700 लड्‌डू 3100 से 3200 कटोरा 2900 से 3000 ताराबर्फी 3900 हल्दी काढ़ी 11700 से 11800 लाल गाय 154 पावडर-501 1775 सुपर क्राउन 871 मयूर 1575 खोपरा गोला 153 से 166 खोपरा बूरा व्हील 4150 नाग 3300 सनगोल्ड 3350 लक्ष्य 3300 ताज 3550 साबूदाना 4800 से 5000 मीडियम 5200 से 5300 बेस्ट 5350 से 5500 ग्लास 6100 से 6400 वरलक्ष्मी 6000 1 किलो पैकिंग में 7000 सोल्जर 5100 सच्चामोती 5925 1 किलो में 6775 सच्चासाबू 6000 1 किलो में 6650 कालीमिर्च गारवल 450 से 455 एटम 465 से 470 मटरदाना 500 से 535 रुपए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..