--Advertisement--

बेटे ने करवाएं मां के नेत्रदान, प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मान

जोबट में नेत्रदाता परिवार को प्रशस्ति पत्र सौंपते गायत्री शक्तिपीठ के पदाधिकारी। तहसील कार्यालय में रीडर अनिल...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:40 AM IST
जोबट में नेत्रदाता परिवार को प्रशस्ति पत्र सौंपते गायत्री शक्तिपीठ के पदाधिकारी।

तहसील कार्यालय में रीडर अनिल जायसवाल की माताजी का निधन

भास्कर संवाददाता | जोबट

श्रीराम शर्मा आचार्य मार्ग निवासी और तहसील कार्यालय रीडर अनिल जायसवाल की माता शकुंतला जायसवाल (63) का देहावसान हो गया। जिस पर अनिल ने पड़ोसी विजय वाणी के समक्ष अपनी माता के नेत्रदान करवाने की इच्छा बताई।

तुरंत नेत्र संकलन केंद्र गायत्री शक्तिपीठ जोबट को सूचना दी गई। डाॅ. शिवनारायण सक्सेना, आई टेक्नीशियन अजमेरसिंह डावर, जयप्रकाश शर्मा ने जायसवाल के निवास पहुंचकर स्व. जायसवाल की दोनों आखों के कार्निया संकलित कर एमके इंटरनेशनल आई बैंक के लिए अंकित वर्मा के साथ भेजे। गौरतलब है कि जोबट नगर का यह 23वां और नेत्र संकलन केंद्र को प्राप्त 67वां नेत्रदान है। जायसवाल परिवार की अनुकरणीय पहल के लिए गायत्री शक्तिपीठ की ओरे प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया। गृह विभाग के उपसचिव शेखर वर्मा, एसडीएम साकेत मालवीय, तहसीलदार अजमेरसिंह गौड़, समाजसेवी पिंटू जायसवाल, सेवानिवृत्त शिक्षक किशोरीलाल जायसवाल, पूर्व पार्षद करणसिंह राठौर, महेश राठौड़, शिवराम वर्मा, जोबट तहसील के पटवारी व कर्मचारियों ने श्रद्धांजलि दी। मुखाग्नि ज्येष्ठ सुपुत्र हेमंत ने दी। अंतिम संस्कार वानप्रस्थी राजेंद्र सोनी ने वैदिक पद्धति से संपन्न करवाया।