Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» UG In 5 Years, PG Students Can Not Be Tested In 22 Years

5 साल में यूजी, 3 साल में पीजी नहीं कर पाए छात्रों की परीक्षा 22 से

यह प्रक्रिया 6 नवंबर तक चलेगी। 22 नवंबर से परीक्षा शुरू होगी। अब तक 200 से ज्यादा फॉर्म आ चुके हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 06, 2017, 06:42 AM IST

  • 5 साल में यूजी, 3 साल में पीजी नहीं कर पाए छात्रों की परीक्षा 22 से
    इंदौर . पांच साल में यूजी (अंडर ग्रेजुएट) और तीन साल में पीजी (पोस्ट ग्रेजुएशन) पूरा नहीं कर पाए विद्यार्थियों के लिए ये अच्छी खबर है। इन विद्यार्थियों के लिए परीक्षा फॉर्म जमा होना शुरू हो गए। यह प्रक्रिया 6 नवंबर तक चलेगी। 22 नवंबर से परीक्षा शुरू होगी। अब तक 200 से ज्यादा फॉर्म आ चुके हैं।
    - बीकॉम, बीए और बीएससी तीसरे और पांचवें सेमेस्टर के नियमित छात्रों की परीक्षा भी साथ होगी। फर्स्ट सेमेस्टर में एटीकेटी के छात्र शामिल हो सकेंगे। खास बात ये है कि फर्स्ट सेमेस्टर की परीक्षा नियमित छात्रों के लिए नहीं होगी, क्योंकि इस साल से कॉलेजों में सेमेस्टर सिस्टम खत्म हो चुका है।
    - यूनिवर्सिटी प्रबंधन का कहना है परीक्षाओं के साथ ही मूल्यांकन प्रक्रिया भी जल्द होगी, ताकि रिजल्ट आने में देरी न हो।
    इन सेमेस्टर वालों को मार्च तक करना होगा इंतजार
    - पांच साल में यूजी नहीं कर पाए दूसरे, चौथे और छठे सेमेस्टर के छात्रों को स्पेशल परीक्षा के लिए मार्च तक इंतजार करना होगा। इंदौर में 10 हजार से ज्यादा छात्र ऐसे हैं जो पांच साल में यूजी और तीन साल में पीजी नहीं कर पाए हैं।
    - संभावना है इनमें से पहले, तीसरे और पांचवें सेमेस्टर के ही 1 हजार से ज्यादा विद्यार्थी हैं, जबकि पांच हजार से ज्यादा विद्यार्थी दूसरे-चौथे और छठे सेमेस्टर के हैं। बाकी विद्यार्थी पीजी के हैं। पीजी के पहले और तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा भी साथ होगी।
    - इसमें वे छात्र आवेदन कर सकेंगे जो तीन साल में भी कोर्स नहीं पूरा कर पाए। यूजी अधिकतम 5 साल और पीजी अधिकतम तीन साल में किया जाना चाहिए। डीएवीवी के परीक्षा नियंत्रक डॉ. अशेष तिवारी का कहना है बीकॉम, बीए, बीएससी पहले, तीसरे और पांचवें सेमेस्टर की परीक्षा 22 से शुरू होगी। समय पर कोर्स पूरा नहीं करने वाले विद्यार्थियों को भी इसमें बैठने का मौका मिल रहा है। वे तुरंत फॉर्म भर सकते हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×