--Advertisement--

धोखाधड़ी / ईवीएम में गड़बड़ी का झांसा देने वाले आरोपी ने लड़की से जॉब के नाम पर ठगे थे 18 लाख रुपए



accused has cheated the girl with Rs 18 lakh in the name of job
X
accused has cheated the girl with Rs 18 lakh in the name of job

  • उज्जैन पुलिस दो साल में नहीं कर पाई थी गिरफ्तार
  • ग्वालियर में पकड़ाया, भास्कर में छपी तस्वीर लेकर थाने पहुंची युवती

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 11:17 AM IST

उज्जैन. ग्वालियर में कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे को ईवीएम में डिवाइस लगाकर उनके पक्ष में वोटिंग कराने का झांसा देने वाले ठगी के आरोपी नीरज सिंह राठौड़ ने उज्जैन की युवती से भी नौकरी दिलाने के नाम पर 18 लाख की ठगी की थी।

 

फरियादी के वकील पवनेंद्रनाथ तिवारी ने बताया 2016 में छात्रा निधि कुशवाह सब इंस्पेक्टर की तैयारी के लिए महानंदा नगर एथलेटिक्स ग्राउंड जाती थी। यहां नीरज भी प्रैक्टिस के लिए आता था। नीरज ने इसी ग्राउंड पर निधि से पहचान कर बताया उसके पिता शिवराज ट्रेजरी में अधिकारी है। इसके बाद उसे सब इंस्पेक्टर परीक्षा-2016 में चयनित कराने के नाम पर 18 लाख रुपए की धोखाधड़ी की।

 

परीक्षा के बाद नीरज के पिता का ट्रांसफर हो गया। निधि ने नीरज से संपर्क किया तो पता चला कि उसने धोखाधड़ी की है। छात्रा ने माधव नगर पुलिस थाने पर इसकी शिकायत करना चाही, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। एडवोकेट तिवारी का कहना है कि परेशान छात्रा जब उनके संपर्क में आई तो पता चला 18 लाख रुपए नीरज को रुपए दिए थे।

 

मामले में जुलाई 2018 में डीजीपी से शिकायत के बाद माधव नगर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी। नीलगंगा थाने में भी नीरज के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज है। गुरुवार को छात्रा ने दैनिक भास्कर में नीरज के खिलाफ छपी खबर और फोटो देखकर माधवनगर थाने पर आवेदन दिया। मांग की है कि नीरज को यहां किए अपराधों में भी गिरफ्तार किया जाए।

 

 

नीरज को उज्जैन पुलिस तलाश रही थी। प्रोडक्शन वारंट पर उसे लाकर कोर्ट में पेश करेंगे।

नीरज पांडेय, एएसपी

 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..