• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • accused sent to the remand till June 24, who cheating the American people through call center

ठगी का कॉल सेंटर / कोर्ट ने आरोपियों की जमानत अर्जी निरस्त कर 24 जून तक भेजा जेल



accused sent to the remand  till June 24, who cheating the American people through call center
accused sent to the remand  till June 24, who cheating the American people through call center
X
accused sent to the remand  till June 24, who cheating the American people through call center
accused sent to the remand  till June 24, who cheating the American people through call center

  • सोमवार रात दबिश देकर सी-21 के पीछे चल रहे कॉल सेंटर से 80 युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया था
  • इंदौर में कॉल सेंटर के माध्यम से अमेरिकी लोगों से की जा रही थी ठगी
     

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 06:57 PM IST

इंदौर. अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर के द्वारा अमेिरका के लोगों से ठगी करने के मामले में पकड़ाए आरोपियों को कोर्ट ने 24 जून तक जेल भेज दिया है। 10 जून की रात को राज्य सायबर सेल ने इंदौर के कॉल सेंटर में दबिश देकर ठगी करने वाले 80 युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया था।


11 जून मंगलवार को सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया था। कोर्ट ने कॉल सेंटर के संचालक शाहरुख खान, भाविन और जावेद को 14 जून तक पुलिस रिमांड पर दिया था जबकि अन्य सभी आरोपी युवक-युवतियों को 24 जून तक जेल भेजने के आदेश दिए थे।

 

शुक्रवार को पुलिस ने आरोपी शाहरुख खान, भाविन और जावेद को न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी विनीता गुप्‍ता के न्‍यायालय में पेश किया। आरोपियों के वकील ने उन्हें जमानत पर छोड़ने का आवेदन पेश किया। जिसका अभियोजन पक्ष के वकील ने यह कहते हुए विरोध किया कि आरोपियों को जमानत देने पर वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं साथ ही उनके विदेश भागने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता। न्‍यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होते हुए उक्‍त तीनों आरोपीगण की जमानत आवेदन निरस्‍त कर उन्‍हें 24 जून तक न्‍यायिक अभिरक्षा (जेल) भेजने के आदेश दिए। उक्‍त प्रकरण में अभियोजन की ओर से सहायक जिला अभियोजन अधिकारी चेतन नागर एवं सहायक जिला अभियोजन अधिकारी अभिषेक जैन ने तर्क रखे। 


इससे पहले गुरुवार को आरोपियों ने शहर में चार और ऐसे कॉल सेंटर संचालित होने की जानकारी साइबर सेल को दी थी। इस पर गुरुवार को साइबर सेल की टीम ने सी-21 माल के पीछे पी-4 बिल्डिंग और बिजनेस पार्क में दबिश देने पहुंची तो मालिक ताला लगाकर भाग गए। हालांकि साइबर सेल को सभी सेंटरों के फरार संचालकों की जानकारी मिल गई है। उनकी जल्द गिरफ्तारी होगी। 


यह है मामला
सोमवार 10 जून की रात राज्य सायबर पुलिस ने इंदौर के सी-21 मॉल के पीछे स्थित प्लेटिनम प्लाजा और दिव्या क्रिस्टल बिल्डिंग के कॉल सेंटर में दबिश देकर 80 लड़के-लड़कियों को पकड़ा था। इन कॉल सेंटर का संचालन जावेद, शाहरुख और भाविल द्वारा किया जा रहा था। यह लोग अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर के माध्यम से अमेरिकी लोगों के साथ ठगी कर रहे थे।

 

आरोपियों के पास से 10 लाख अमेरिकी नागरिकों का डेटा बरामद किया गया था। आरोपी अमेरिकी नागरिकों को उनके सोशल सिक्योरिटी नंबर (एसएसएन) का उपयोग ड्रग ट्रैफिकिंग और मनी लॉन्ड्रिंग में होने का डर बताकर ठगी को अंजाम देते थे। एक साल में करीब ढाई लाख अमेरिकियों से करोड़ों रु. ठग चुके हैं। आरोपियों ने नागालैंड व मेघालय के पढ़े-लिखे युवाओं को ठगी के लिए 22 हजार रुपए प्रतिमाह पर नौकरी पर रखा था। इनके कम्प्यूटर स्क्रीन पर अलग-अलग प्रश्न और उनके उत्तरों की लिस्ट बतौर स्क्रिप्ट इन्हें ठगी के लिए रटा दी गई थी। 

COMMENT