• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Atal Bihari Vajpayee 95th Birth Anniversary: Former PM Atal Bihari Vajpayee's birthday being celebrated In Indore

अटलजी की जयंती / भतीजी बोलीं- पीएम हाउस को चाचाजी ने कहा था कांटों भरा, शादी में दिल्ली से लेकर आए थे फूलों के गहने

अटल जी को याद का भावुक हुईं माला तिवारी।
X

  • पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95वीं जयंती पर उनकी भतीजी माला तिवारी इंदौर में बुजुर्गाें के बीच पहुंचीं
  • माला, अटल जी के बड़े भाई सदाबिहारी की सबसे छोटी बेटी हैं

दैनिक भास्कर

Dec 25, 2019, 03:47 PM IST

इंदौर. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95वीं जयंती के मौके देशभर में कई आयोजन हुए। इंदौर में भी अटलजी की भतीजी माला तिवारी ने परदेशीपुरा स्थित आस्था वृद्धाश्रम में उनका जन्मदिन मनाया। इस दौरान अटलजी को याद करते हुए उन्होंने कहा- वे बहुत सहल और सहज थे। मेरी शादी पर वे फूलों से बने गहने लेकर दिल्ली से आए थे। प्रधानमंत्री बनने के बाद जब मैं बच्चों के साथ दिल्ली गई तो उन्होंने पीएम हाउस को दिखाते हुए कहा था- देखो कितना बड़ा और कितना अच्छा है, देखने में अच्छा है, लेकिन यह कांटों से भरा है।

इस मौके पर माला तिवारी ने अटल फाउंडेशन के बैनर तले आयोजित कार्यक्रम में अटलजी के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया और वृद्धजनों को भोजन करवाया। उन्होंने बताया कि वे अटल जी के बड़े भाई सदाबिहारी की सबसे छोटी बेटी हैं। उन्होंने कहा- मैं हर साल उनका जन्मदिन इन वृद्धजनों के साथ मनाती हूं। जब उनसे अटल जी की यादों के बारे में पूछा गया तो वे भावुक हो गईं और अटल जी से जुड़े कई प्रसंग भी सुनाए।

 टेप रिकॉर्डर दिलवाया था: माला

  • माला ने बताया, "मेरी शादी के समय वे तीन दिन ग्वालियर में रहे थे। विदेश मंत्री बनने के बाद वे पहल बार यहां आए थे। उसने बस यह कहना होता था कि हमें क्या चाहिए। उस समय उन्होंने टेप रिकॉर्डर दिलवाया था।"
  • "मैंने शादी में पहनने के लिए फूलों के गहनों की मांग की थी। इस पर वे दिल्ली से माेंगरे के बने फूल लेकर आए थे। कॉलेज टाइम में मेरे हाथ में फैक्चर हो गया था, दिल्ली में उन्होंने मेरा ऑपरेशन करवाया था।"
  • "शादी के बाद जब मैंने ससुराल में मसाला पीसा। इस पर जब उनसे मेरी बात हुई तो उन्होंने पूछा कैसे हो तो मैंने कहा कि मसाला पीसने में हाथ बहुत दुखा और सूजन भी आ गई। इस पर अगली बार जब मैं उनसे मिली तो उन्होंने मुझे मिक्सर गिफ्ट की थी।"
  • "वे हमारी सभी बहनों का ध्यान रखते थे। जब वे प्रधानमंत्री बने तो हमारे बच्चों ने कहा कि नाना हमें पीएम हाउस देखना है। इसके बाद जब मैं दिल्ली गई तो उन्होंने पीएम हाउस में कहा देखाे ये कितना अच्छा, कितना बड़ा है, देखने में है, लेकिन है यह बहुत कांटों भरा।" 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना