--Advertisement--

एट्रोसिटी एक्ट / करणी सेना ने किया प्रदर्शन, काले कपड़े पहनकर आए हजारों लोग



एसीएसटी एक्ट के विरोध में सड़क पर उतरी करणी सेना। एसीएसटी एक्ट के विरोध में सड़क पर उतरी करणी सेना।
  •  उज्जैन से शुरू हुआ करणी सेना का प्रदेश स्तरीय आंदोलन
  • ब्राह्मण, मुस्लिम, क्षत्रिय, सपाक्स, वैश्य समाज ने दिया समर्थन
  • उज्जैन में सीएम के पोस्टर पर उतारा आक्रोश
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 05:35 PM IST

इंदौर/उज्जैन. एट्रोसिटी एक्ट के खिलाफ राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के प्रदेश स्तरीय आंदोलन की शुरुआत रविवार को उज्जैन से हुई। नानाखेड़ा स्टेडियम से सुबह साढ़े 11 बजे सवर्ण वाहन रैली निकाली गई, जिसमें हजारों लोगाें के शामिल होने का दावा किया गया है। रैली में कई  लोगों ने विरोध स्वरूप काले कपड़े पहन रखे थे। उज्जैन रवाना होने से पहले करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने इंदौर के विजयनगर में प्रदर्शन किया।

 

विजय नगर क्षेत्र में सैकड़ों लोग विरोधस्वरूप सड़क पर उतरे।

 

 

करणी सेना के कार्यकर्ताओं का कहना था कि संविधान में हर भारतीय नागरिक को समानता का अधिकार है, लेकिन एट्रोसिटी एक्ट इस अधिकार के विपरीत है। यह एक्ट सवर्ण, ओबीसी, अल्पसंख्यक और एससी-एसटी समाज के बीच खाई पैदा करने वाला है। इसके कारण देशभर में असंतोष है। आरक्षण आर्थिक आधार पर हो जाति आधार पर नहीं। जातिगत आरक्षण के कारण कई समुदायों को अपने अधिकारों से वंचित होना पड़ रहा है।

 

 

हजारों लोग हुए शामिल

  1. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

  2. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

     

  3. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  4. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

  5. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

     

  6. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  7. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

  8. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

     

  9. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  10. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

  11. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

     

  12. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  13. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

  14. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

     

  15. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  16. सांसद को गांव में घुसने नहीं देंगे

    करणी सेना के शैलेंद्र झाला ने कहा - सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय ने कहा था कि आरक्षण कोई खत्म नहीं कर सकता है। हम उन्हें सवर्णों के गांवों में घुसने नहीं देंगे। मालवीय ने कहा- मैं सबके साथ और सबके विकास में विश्वास रखता हूं। क्षत्रिय महासभा के अनिल सिंह चंदेल ने मालीपुरा में रैली का स्वागत किया। इधर, शहामत खान ने बताया कि मुस्लिम समाज के लोग भी रैली में शामिल हुए।

  17. यहां से निकली रैली

    रैली नानाखेड़ा स्टेडियम, टावर चौराहा, फ्रीगंज ओवर ब्रिज, चामुंडा चौराहा, देवासगेट, मालीपुरा, दौलतगंज, नई सड़क, कंठाल, तेलीवाड़ा, निकास, बुधवारिया, फाजलपुरा, आगर रोड होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। रैली में शामिल होने के लिए उज्जैन के अलावा इंदौर, रतलाम, नीमच, मंदसौर, देवास, शाजापुर आगर-मालवा सहित दूर-दूर से लोग आए थे।

     

  18. वन-वे करके दोनों तरफ के वाहन निकाले

    ट्रैफिक डीएसपी एचएन बाथम ने बताया सड़क के एक हिस्से में रैली चलाई गई, जबकि दूसरा रास्ते पर दोनों तरफ के वाहनों को निकाला गया। ट्रैफिक दबाव बढ़ाने पर वाहनों को रोककर ब्रिज से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। पुलिस प्रशासन ने रैली को देखते हुए तीन थानों का बल तैनात किया था। रैली मार्ग पर करीब 15 स्थानों का रुट डायवर्ट किया है।

  19. सीएम के पोस्टर पर चलाई लाठियां

    टावर चौक पर प्रदर्शन के दौरान रैली में शामिल कुछ युवकों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह  चौहान के पोस्टर पर लाठियां चलाई और कुछ पोस्टरों को फाड़ दिया गया। वहां उपस्थित पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को रोकने का प्रयास किया लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो सके। प्रदर्शनकारी भाजपा के साथ ही कांग्रेस के खिलाफ भी नारेबाजी कर रहे थे।