इंदौर

--Advertisement--

बेटी ने किया भय्यू महाराज का अस्थि संचय, महेश्वर में नर्मदा नदी में किया प्रवाहित

भय्यू महाराज की अस्थियों को नर्मदा नदी के अलावा देश की प्रमुख नदियों में भी प्रवाहित किया जाएगा।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 07:09 PM IST
bhaiyu maharaj asthi sanchay process news mp

इंदौर. भमोरी स्थित मुक्तिधाम पर गुरुवार सुबह बेटी ने परिजनों के साथ भय्यू महाराज का अस्थि संचय किया। अस्थि संचय के बाद सभी महेश्वर के लिए रवाना हुए, जहां नर्मदा नदी में अस्थियों को प्रवाहित किया गया। करीबियों के अनुसार अस्थियों को दे की सभी प्रमुख नदियों में भी प्रवाहित किया जाएगा। बता दें, मंगलवार को संत भय्यू महाराज ने अपने घर पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। बुधवार को बेटी कुहू ने उन्हें मुखाग्नि दी थी।

- सुबह बेटी कुहूू परिजन और सेवादारों के साथ मुक्तिधाम पहुंचीं। यहां मंत्रोचार के बीच पंडित ने अस्थि संचय करवाया। इसके बाद चबूतरे को गोबर से लिपवाकर फूल अर्पित कर भोग लगाया गया। यहां से बेटी कुहू अस्थियों को लेकर महेश्वर के लिए रवाना हुई, जहां नर्मदा नदी में अस्थियों को प्रवाहित किया गया। नर्मदा नदी के अलावा अस्थियों को देश की अन्य प्रमुख नदियों में भी 10 दिन में प्रवाहित किया जाएगा।

श्रद्धांजलि सभा पहुंचे मंत्री लालसिंह आर्य

  • भय्यू महाराज की श्रद्धांजलि सभा गुरुवार शाम स्कीम नंबर 74 स्थित ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित की गई, जिसमें इंदौर के कई बड़े नेता और साधु संत शामिल हुए।
  • शोक सभा में मंत्री लाल सिंह आर्य, बीजेपी शहर अध्यक्ष कैलाश शर्मा, कांग्रेस के कद्दावर नेता कृपाशंकर शुक्ला, बीजेपी महासचिव कैलाश विजयर्गीय की पत्नी आशा विजयर्गीय शामिल हुईं।
  • भय्यू महाराज की दो समाधि और एक छत्री बनाई जाएगी। महाराष्ट्र स्थित खामगांव में और इंदौर स्थित आश्रम में गादी के पास उनकी समाधि बनेगी। जमींदार परिवार से ताल्लुक रखने के कारण पारिवारिक परंपरा अनुसार शुजालपुर में उनकी छत्री बनाई जाएगी। इसके अलावा अंतिम संस्कार के लिए बनाए गए अस्थाई चबूतरे की ईंटों को उनके सभी आश्रमों में याद स्वरूप लगाया जाएगा।

भय्यू महाराज ने घर में खुद को मारी थी गोली

- संत भय्यू महाराज ने मंगलवार को सिल्वर स्प्रिंग्स स्थित घर में खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। उन्होंने पॉकेट डायरी में डेढ़ पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा था, जिसमें खुद के तनाव में होने और अपने सेवादार विनायक को घर और प्रॉपर्टी की जिम्मेदारी सौंपने की बात लिखी थी। प्राथमिक जांच में घरेलू विवाद के तनाव में आत्महत्या की बात सामने आ रही है। पुलिस को दिए बयान में पत्नी-बेटी ने एक-दूसरे पर भय्यू महाराज को यह कदम उठाने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामले में परिजन सहित 7 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। इसके अलावा कम्प्यूटर, गैजेट्स और मोबाइल भी जब्त कर लिए हैं।

X
bhaiyu maharaj asthi sanchay process news mp
Click to listen..