Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Bhayyu Ji Maharaj Dies After Shooting Himself In Indore

रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे

डॉ. आयुषी ने कहा- एक भी दिन गुरुजी ने मुझसे नहीं कहा कि कोई तनाव है।

Bhaskar News | Last Modified - Jun 13, 2018, 04:38 PM IST

  • रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे
    +4और स्लाइड देखें
    घटना के बाद डॉ. आयुषी बदहवास... रोती... चीखती हुई अस्पताल पहुंची।

    - भय्यू महाराज लग्जरी कारों के शौकीन थे। हाल ही में उन्होंने मस्टेंग कार खरीदी थी।

    - बुधवार को किया गया भय्यू महाराज का अंतिम संस्कार, बेटी ने दी मुखाग्नि।

    इंदौर। भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने मंगलवार को बेटी के कमरे में जाकर अपने आप को बंद किया, फिर लाइसेंसी रिवॉल्वर कनपटी पर रखकर गोली चला दी। उन्होंने अपनी पॉकेट डायरी में डेढ़ पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है। सेवादार विनायक को मौत के बाद सारे प्रमुख दायित्व सौंपे जाने की बात भी लिखी है। प्राथमिक जांच में घरेलू विवाद से तनाव में आकर आत्महत्या की बात सामने आ रही है। हर घंटे फोन पर दोनों में होती थी बात...

    - घटना के बाद डॉ. आयुषी बदहवास... रोती... चीखती हुई अस्पताल पहुंची। लोगों से पूछा गुरुजी कहां, कहां रखा है उनको।

    - चेहरे पर तनाव था, लेकिन आंसू एक भी नहीं। जैसे ही उन्हें बताया कि आईसीयू में हैं।

    - आयुषी दो-दो सीढ़ी एक साथ चढ़कर आईसीयू की ओर भागीं। उनकी ऐसी हालत देखकर वहां मौजूद रिश्तेदार, शिष्य भी बिलख पड़े।

    - डॉ. आयुषी अस्पताल में रोते, बिलखते हुए कहती रहीं एक भी दिन गुरुजी ने मुझसे नहीं कहा कि कोई तनाव है।

    - मुझे गुरुजी की ऐसी आदत हो गई थी कि हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे।

    - हर घंटे में मैं उनको फोन लगाती थी या वो मुझे मोबाइल लगाकर हाल जान लेते थे। हम कई मिनटों तक बातें किया करते थे।

    - अब मुझे फोन कौन लगाएगा? सब लोग तो गुरुजी से मिलने घर आते थे। अब हमारे घर कौन आएगा? दो घंटे हो गए।

    - उनका फोन ही नहीं आया। बार-बार मुझे लग रहा है कि अब उनका फोन आता ही होगा।

    पहली पत्नी की मौत के 2 साल बाद की थी दूसरी शादी की घोषणा
    - पहली पत्नी माधवी का नवंबर 2015 में पुणे में निधन हो गया था। वे महाराष्ट्र के औरंगाबाद की रहने वाली थीं।

    - दो साल बाद ही उन्होंने दूसरी शादी की घोषणा कर सबको चौंका दिया था।

    - भय्यू महाराज ने 30 अप्रैल 2017 को मध्यप्रदेश के शिवपुरी की डॉ. आयुषी के साथ दूसरी शादी की।

    लग्जरी लाइफ स्टाइल... रफ्तार के थे शौकीन
    - भय्यू महाराज लग्जरी कारों के शौकीन थे। हाल ही में उन्होंने मस्टेंग कार खरीदी थी।

    - अलसुबह बायपास पर वह रफ्तार से कार चलाते हुए देखे जाते थे।

    - एक बार मुंबई तक वह खुद कार चलाकर गए थे। साढ़े 7 घंटे में पहुंच गए थे।
    - भय्यू महाराज हमेशा रोलेक्स की घड़ी पहनते थे। खुद को संवार कर रखने का भी शौक था।

    - चेहरे का भी खास ध्यान रखते थे। आम जनता से मिलने से पहले वह ड्रेसिंग रूम में करीब तीन घंटे बिताते थे।

    - जनता के बीच वह सफेद कुर्ते, पायजामा में आते थे, लेकिन किसी पार्टी या निजी समारोह में जाना हो तो सूट-बूट में नजर आते थे।

    जमींदार परिवार में जन्मे, मॉडल से लेकर संत तक का सफर...
    - मूल रूप से शुजालपुर के रहने वाले थेे। 29 अप्रैल 1968 को जमींदार परिवार में जन्मे। नाम उदयसिंह देशमुख।

    - 90 के दशक में प्रॉपर्टी का क्रय-विक्रय भी किया। मुंबई की एक कंपनी में काम किया।

    - फिर सियाराम सूटिंग के लिए विज्ञापन भी किया। मॉडलिंग का भी शौक था।
    - 1996 में सुखलिया स्थित सूर्योदय आश्रम की स्थापना की।
    - 1999 में विधिवत श्रीसद्गुरु पारमार्थिक ट्रस्ट का गठन किया।
    - 2003 से धर्म के साथ समाजसेवा शुरू की। फोकस महाराष्ट्र के पिछड़े गांवों पर किया।
    - महाराष्ट्र में ही उन्हें राष्ट्रसंत का दर्जा मिला। गांवों में तालाब, कुएं, बोरिंग कराए।

    - बच्चियों की शादी कराई। स्कूली शिक्षा पर जोर दिया। सैकड़ों शव वाहन, एंबुलेंस चलाए।
    - हर यज्ञ-हवन में पर्यावरण संरक्षण मुद्दा रहता था।
    - सूर्योदय आश्रम में उनसे मुलाकात के लिए वेटिंग चलती थी। व्यक्ति की कोई भी समस्या हो।

    - निदान के लिए वह अनुष्ठान करवाते थे। व्यक्ति अपनी हैसियत के हिसाब से इसके लिए दान भी करता था।

  • रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे
    +4और स्लाइड देखें
    भय्यू महाराज ने 30 अप्रैल 2017 को मध्यप्रदेश के शिवपुरी की डॉ. आयुषी के साथ दूसरी शादी की।
  • रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे
    +4और स्लाइड देखें
  • रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे
    +4और स्लाइड देखें
  • रोते-चीखती हुए भय्यू महाराज की पत्नी ने कहा- हर घंटे फोन पर बात होती थी, हम एक-दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे
    +4और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×