इंदौर

--Advertisement--

PHOTOS: भय्यू महाराज की बेटी की हालत देख हर किसी की आंखों में आ गए आंसू

भय्यू महाराज को बेटी ने दी मुखाग्नि; केंद्रीय मंत्री अठावले समेत कई हस्तियों ने दी श्रद्धांजलि।

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 05:29 PM IST
बेटी कुहू ने सारी रस्में निभाईं। मुखाग्नि देते ही जोर-जोर से रोनें लगीं। बेटी कुहू ने सारी रस्में निभाईं। मुखाग्नि देते ही जोर-जोर से रोनें लगीं।

  • भय्यूजी महाराज पंचतत्व में विलीन हुए
  • बेटी कुहू ने निभाईं सारी रस्में, दी मुखाग्नि
  • केंद्रीय मंत्री अठावले समेत कई VIP पहुंचे

इंदौर. भय्यू महाराज बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। यहां भमोरी श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। बेटी कुहू ने सारी रस्में निभाते हुए पिता को मुखाग्नि दी। इसके बाद वे बिलखकर रोने लगीं। इससे पहले पार्थिव देह को अंतिम दर्शन के लिए बापट चौराहे स्थित उनके सूर्योदय आश्रम में रखा गया था। यहां केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले और पंकजा मुंडे समेत कई हस्तियां उनके अंतिम दर्शन करने पहुंचीं। भय्यू महाराज ने मंगलवार दोपहर अपने स्प्रिंग वैली स्थित घर पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पहली पत्नी की मौत के डेढ़ साल बाद की थी दूसरी शादी...

- भय्यू महाराज की पहली पत्नी माधवी का नवंबर 2015 में पुणे में निधन हो गया था। वे महाराष्ट्र के औरंगाबाद की रहने वाली थीं। पहली शादी से उनकी एक बेटी कुहू (18) है। वो पुणे में पढ़ाई कर रही है। भय्यू महाराज ने 30 अप्रैल 2017 को मध्य प्रदेश के शिवपुरी की डॉ. आयुषी के साथ दूसरी शादी की थी।

मोदी, अण्णा हजारे का अनशन तुड़वाने पर सुर्खियों में आए
- भय्यू महाराज 2011 में तब चर्चा में आए जब यूपीए सरकार ने उन्हें दूत बनाकर अन्ना हजारे के अनशन खत्म करवाने के लिए भेजा था। बाद में अन्ना ने उनके हाथ से जूस पीकर अनशन तोड़ा था। उस वक्त उनके साथ महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख भी थे।
- सितंबर 2011 में गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी सद्भावना उपवास पर बैठे थे। तब उपवास खुलवाने के लिए उन्होंने भय्यू महाराज को आमंत्रित किया था।

जमींदार परिवार से रखते थे ताल्लुक
- 1968 को जन्मे भय्यू महाराज का मूल नाम उदयसिंह देखमुख था। वे शुजालपुर के जमींदार परिवार से ताल्लुक रखते थे।
- भय्यू महाराज ने कभी कपड़ों के एक ब्रांड के विज्ञापन के लिए मॉडलिंग भी की थी। सद्गुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट उनकी ही देखरेख में चलता था। उनका मुख्य आश्रम इंदौर के बापट चौराहे पर है।

भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
X
बेटी कुहू ने सारी रस्में निभाईं। मुखाग्नि देते ही जोर-जोर से रोनें लगीं।बेटी कुहू ने सारी रस्में निभाईं। मुखाग्नि देते ही जोर-जोर से रोनें लगीं।
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates
भय्यू महाराज का अंतिम सफर, Bhayyu Maharaj Funeral Updates

Related Stories

Click to listen..