इंदौर

--Advertisement--

एक कार में आईं भय्यू महाराज की बेटी और पत्नी, शव के पास बैठीं पर एक-दूसरे को देखा तक नहीं

भय्यू महाराज की पहली पत्नी माधवी से हुई बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी एक ही कार से आईं।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 08:27 AM IST
बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आय बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आय

- बेटी कुहू ने दी भय्यू महाराज को मुखाग्नि

- पुलिस ने पत्नी सहित लिए 7 लोगों के बयान

इंदौर। खुद को गोली मारकर खुदकुशी करने वाले संत भय्यू महाराज बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। शाम चार बजे विजय नगर स्थित मुक्तिधाम में बेटी कुहू ने उन्हें मुखाग्नि दी। वहीं, इस मामले में महाराज की पत्नी डॉ. आयुषी और बेटी के बीच चल रहा विवाद ही मुख्य वजह के रूप में सामने आ रहा है।

एक ही कार से आईं आयुषी और कुहू, पर एक-दूसरे को देखा तक नहीं

- भय्यू महाराज के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार से पहले सुबह साढ़े नौ बजे सुखलिया के सूर्योदय आश्रम लाया गया।

- यहां उनकी पहली पत्नी माधवी से हुई बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी एक ही कार से आईं।

- पूरे रास्ते दोनों ने एक-दूसरे की तरफ देखा तक नहीं। महाराज के पार्थिव शरीर के पास मां, बेटी कुहू और पत्नी आयुषी थीं, लेकिन कुहू और आयुषी ने एक-दूसरे को नजरअंदाज किया।

- दोनों करीब 4 घंटे शव के पास बैठी रहीं, लेकिन एक-दूसरे को देखा नहीं। इस दौरान सेवादार विनायक को महाराज की मां ने दुलारा।

पुलिस कई एंगल पर कर रही है जांच

- जैसे- भय्यू महाराज ने सुसाइड नोट में बेटी का जिक्र नहीं करते हुए सेवादार विनायक दुधाड़े को ही क्यों सर्वेसर्वा बताया?

- पत्नी से रिश्ते अच्छे थे उसे भी संपत्ति और व्यावसायिक मामलों की जिम्मेदारी क्यों नहीं दी? उन्हें बेटी से नहीं मिलने देने की साजिश तो नहीं थी?

- पुलिस ने महाराज की पत्नी व घर में रहने वाले 7 लोगों के बयान लिए हैं। कम्प्यूटर, गैजेट्स, मोबाइल जब्त किए।

- डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया मोबाइल की सीडीआर और डेटा चेक करवाया जा रहा है।

- इससे पहले, अंतिम संस्कार से पहले महाराज का शव सूर्योदय आश्रम में रखा गया। वहां बेटी और पत्नी एक कार से पहुंची। दोनों करीब 4 घंटे शव के पास बैठी रहीं, लेकिन एक-दूसरे को देखा नहीं।

X
बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आयबेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आय

Related Stories

Click to listen..