Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Bhayyu Maharaj Funeral Updates In Indore

एक कार में आईं भय्यू महाराज की बेटी और पत्नी, शव के पास बैठीं पर एक-दूसरे को देखा तक नहीं

भय्यू महाराज की पहली पत्नी माधवी से हुई बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी एक ही कार से आईं।

Bhaskar News | Last Modified - Jun 14, 2018, 08:27 AM IST

एक कार में आईं भय्यू महाराज की बेटी और पत्नी, शव के पास बैठीं पर एक-दूसरे को देखा तक नहीं

- बेटी कुहू ने दी भय्यू महाराज को मुखाग्नि

- पुलिस ने पत्नी सहित लिए 7 लोगों के बयान

इंदौर।खुद को गोली मारकर खुदकुशी करने वाले संत भय्यू महाराज बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। शाम चार बजे विजय नगर स्थित मुक्तिधाम में बेटी कुहू ने उन्हें मुखाग्नि दी। वहीं, इस मामले में महाराज की पत्नी डॉ. आयुषी और बेटी के बीच चल रहा विवाद ही मुख्य वजह के रूप में सामने आ रहा है।

एक ही कार से आईं आयुषी और कुहू, पर एक-दूसरे को देखा तक नहीं

- भय्यू महाराज के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार से पहले सुबह साढ़े नौ बजे सुखलिया के सूर्योदय आश्रम लाया गया।

- यहां उनकी पहली पत्नी माधवी से हुई बेटी कुहू और दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी एक ही कार से आईं।

- पूरे रास्ते दोनों ने एक-दूसरे की तरफ देखा तक नहीं। महाराज के पार्थिव शरीर के पास मां, बेटी कुहू और पत्नी आयुषी थीं, लेकिन कुहू और आयुषी ने एक-दूसरे को नजरअंदाज किया।

- दोनों करीब 4 घंटे शव के पास बैठी रहीं, लेकिन एक-दूसरे को देखा नहीं। इस दौरान सेवादार विनायक को महाराज की मां ने दुलारा।

पुलिस कई एंगल पर कर रही है जांच

- जैसे- भय्यू महाराज ने सुसाइड नोट में बेटी का जिक्र नहीं करते हुए सेवादार विनायक दुधाड़े को ही क्यों सर्वेसर्वा बताया?

- पत्नी से रिश्ते अच्छे थे उसे भी संपत्ति और व्यावसायिक मामलों की जिम्मेदारी क्यों नहीं दी? उन्हें बेटी से नहीं मिलने देने की साजिश तो नहीं थी?

- पुलिस ने महाराज की पत्नी व घर में रहने वाले 7 लोगों के बयान लिए हैं। कम्प्यूटर, गैजेट्स, मोबाइल जब्त किए।

- डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया मोबाइल की सीडीआर और डेटा चेक करवाया जा रहा है।

- इससे पहले, अंतिम संस्कार से पहले महाराज का शव सूर्योदय आश्रम में रखा गया। वहां बेटी और पत्नी एक कार से पहुंची। दोनों करीब 4 घंटे शव के पास बैठी रहीं, लेकिन एक-दूसरे को देखा नहीं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ek kar mein aaeen bhayyu mhaaraaj ki beti aur patni, shv ke pass baithin par ek-dusre ko dekhaa tak nahi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
Reader comments

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×