• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Kailash Vijayvargiya: BJP Kailash Vijayvargiya Reaction To Arvind Kejriwal Aam Aadmi Party Over Delhi Election Results 2020

दिल्ली विस चुनाव / कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- केजरीवाल ने यह चुनाव विकास के नाम पर नहीं, सब कुछ फ्री देने के मुद्दे पर जीता

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया से बात की।
X

  • विजयवर्गीय ने आम आदमी पार्टी को बधाई दी, कहा- वोट प्रतिशत के साथ भाजपा की सीटों में भी इजाफा, कांग्रेस जीरो से आगे नहीं बढ़ पाई
  • कहा- आदिवासियों को हिंदू नहीं मानना राजनीति षड्यंत, कमलनाथ को आदिवासियों को लेकर दिया बयान बहुत महंगा पड़ेगा

दैनिक भास्कर

Feb 11, 2020, 05:25 PM IST

इंदौर. दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) को दूसरी बार स्पष्ट बहुमत मिला है। चुनाव नतीजे आने के बाद भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने यह चुनाव विकास के मुद्दे पर नहीं, सब कुछ फ्री में देने के मुद्दे पर जीता है। सब चीज फ्री था। अब इसमें विकास कहां था, यह तो केजरीवाल बताएंगे।

विजयवर्गीय ने कहा- दिल्ली चुनाव में विकास क्या, फ्री मुद्दा था। सब चीज फ्री। मुद्दा फ्री था। 6 महीने के अंदर फ्री की घोषणाएं हुईं हैं, उसका चुनाव में असर हुआ है। विजयवर्गीय भाजपा का वाेट प्रतिशत बढ़ा है। हमारी सीट भी बढ़ी हैं। हां, कांग्रेस जरूर साफ हो गई है। यदि पूरे परिणाम को देखें तो भाजपा ने पिछले चुनाव की तुलना में बेहतर किया है, जबकि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी दोनों के प्रदर्शन में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि संख्या बल के आधार पर आम आदमी की सरकार बन रही है। मैं उन्हें बधाई देता हूं।

बंगाल हम बिना चेहरे के जीतेंगे

दिल्ली में किसी चेहरे पर चुनाव लड़ने की बात पर कहा कि चेहरा हो या ना हो, यह अलग विषय है। हमने बिना चेहरे के त्रिपुरा, हरियाणा, गुजरात में सरकार बनाई। बंगाल में बिना चेहरे के सरकार बनाएंगे। हम दिल्ली चुनाव को लेकर मंथन जरूर करेंगे कि संगठनात्मक मजबूती वहां पर बने।

आदिवासियों पर मुख्यमंत्री ने जहरीला बयान दिया
आदिवासियों को लेकर मुख्यमंत्री के बयान पर विजयवर्गीय ने कहा- कमलनाथ ने बहुत ही जहरीला बयान दिया है। कांग्रेस की नीति रही है कि फूट डालो और राज करो। पहले हिंदू-मुस्लिम को लड़ाया, फिर भारत का विभाजन हुआ। अभी कमलनाथ का जो बयान है वह हिंदुओं को बांटने वाला है। कैलाश ने कहा कि भगवान राम ने शबरी के बेर खाए, निषाद राज को गले लगाया। सब राम को आराध्य मानते थे। आदिवासी का हिंदू नहीं मानना बहुत बड़ा राजनीतिक षड़यंत्र है, जो सोनिया गांधी के निर्देश पर हो रहा है। मुख्यमंत्री को यह बयान बहुत महंगा पड़ेगा।

आदिवासियों को हिंदू दर्शाने संबंधी मुहिम पर कमलनाथ ने कहा था...
जनगणना के दौरान आदिवासियों को हिंदू दर्शाने संबंधी आरएसएस की मुहिम पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नाराजगी जाहिर की थी। नाथ ने कहा था कि आदिवासियों को उनकी इच्छा और अनादिकाल की मान्यताओं के विरुद्ध अपनी धार्मिक पहचान बताने के लिए बाध्य नहीं करने दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा था कि ऐसा लगता है कि देश में एनआरसी लागू करने में असफल होने पर संघ अपने इरादे दूसरे रास्ते से लागू करना चाहता है। आरएसएस का यह एक और विभाजनकारी मंतव्य है जो देश के सामने आया है। संघ यदि ऐसे किसी अभियान को आकार देगा तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना