मध्यप्रदेश / सेंधवा का हिस्ट्रीशीटर संजय यादव गिरफ्तार, घर से 10 पिस्टल, 111 कारतूस, 17 हथगोले मिले थे

पुलिस गिरफ्त में आए यादव पर 47 केस दर्ज हैं। पुलिस गिरफ्त में आए यादव पर 47 केस दर्ज हैं।
X
पुलिस गिरफ्त में आए यादव पर 47 केस दर्ज हैं।पुलिस गिरफ्त में आए यादव पर 47 केस दर्ज हैं।

  • लोकसभा चुनाव से ठीक पहले पुलिस ने सेंधवा के भाजपा नेता संजय यादव के घर से बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए थे
  • 9 महीने से फरार चल रहे यादव पर पुलिस ने पहले पांच और फिर 10 हजार का इनाम घोषित किया था

दैनिक भास्कर

Jan 18, 2020, 02:20 PM IST

बड़वानी. सेंधवा के हिस्ट्रीशीटर भाजपा नेता संजय यादव को पुलिस गिरफ्तार कर लिया है। इसका खुलासा शनिवार को एसपी डीआर तेनिवार ने किया। 9 माह से फरार यादव पर पुलिस ने पहले 5 का इनाम घोषित किया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 10 हजार रुपए कर दिया था। कुख्यात बदमाश यादव पर हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध वसूली, अवैध हथियार के मामले सहित 47 केस दर्ज हैं। दिसंबर 2019 माह के अंत में कलेक्टर अमित तोमर ने पुलिस की रिपोर्ट के आधार पर सेंधवा के संजय पिता विष्णु प्रसाद यादव पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) की कार्रवाई की थी। 

एसपी डीआर तेनिवार ने बताया कि कुख्यात बदमाश संजय पिता विष्णु प्रसाद यादव निवासी सेंधवा मार्च 19 से सेंधवा में  विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और नागलवाड़ी में आर्म्स एक्ट के मामले में फरार चल रहा था। यह आदतन अफराधी हैं, इस पर 47 अपराध दर्ज हैं। 1991 से अपराध जगत में सक्रिय यादव पर लूट, हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध वसूली, अवैध हथियार, अड़ीबाजी जैसे संगीत अपराध दर्ज हैं। पुलिस 10 हजार का इनाम घोषित कर इसे खोज रही थी। कलेक्टर द्वारा एनएसए का वारंट जारी किए जाने के बाद इसे तलाशने के लिए पुलिस की एक टीम गठित की गई थी। पुलिस दो माह से दबिश दे रही थी।

साथी के साथ कार से राजपुर की ओर जा रहा था

शुक्रवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि संजय यादव अपने साथी रामस्वरूप चौधरी के साथ कार से जुलवानिया से राजपुर की ओर आ रहा है। इस पर पुलिस ने कार को रोका और दोनों को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी में इनके पास से एक देशी पिस्टल और एक कट्टा और जिंदा कारतूस मिले, जिस पर पुलिस ने आर्म्स एक्ट में कार्रवाई करते हुए हथियार जब्त कर लिए। पुलिस के अनुसार इसके भाजपा से जुड़े होने की भी जानकारी मिली है।   

पिछले लोस चुनाव के दौरान मिला था हथियारों का जखीरा
12 मार्च 19 को नागलवाड़ी थाना अंतर्गत बालसमुद चौकी पुलिस ने अवैध हथियार के साथ आरोपियों को पकड़ा था। आरोपियों ने पुलिस को बताया था कि ये हथियार उन्हें यादव ने आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने के लिए दिए थे, जिसके बाद 31 मार्च को तत्कालीन एसपी यांगचेन डोलकर भूटिया के निर्देशन में एक टीम ने यादव के घर से हथियारों की खेप बरामद की थी। पिछले लोकसभा चुनाव से पहले पुलिस ने दो मामलों में यादव पास से 13 पिस्टल, 17 हथगोले व 116 कारतूस सहित धारदार हथियार जब्त किए थे। संजय नपाध्यक्ष बसंती यादव का बेटा है। भूटिया के अनुसार यादव के घर से 9 एमएम की 6 पिस्टल, 32 बोर की दो पिस्टल, 7.62 एमएम 2 पिस्टल, 111 कारतूस और 17 देशी हथगोले बरामद हुए थे। दबिश के बाद से ही आरोपी फरार हो गया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना