मप्र / बीआरटीएस के एलिवेटेड कॉरिडोर में अब 56 दुकान समेत चार भुजाओं का प्रस्ताव



BRTS now offers four arms including 56 shops in elevated corridor
X
BRTS now offers four arms including 56 shops in elevated corridor

Dainik Bhaskar

Oct 30, 2019, 06:15 AM IST

इंदौर . बीआरटीएस पर एलआईजी से नौलखा चौराहे तक बनने वाले एलिवेटेड कॉरिडोर में अब चार भुजाएं बनाने का प्रस्ताव तैयार हुआ है। मंगलवार को भोपाल से आई अफसरों की टीम ने मौका देखने के बाद नई डिजाइन का जो प्रस्ताव बनाया है, उसमें ग्रेटर कैलाश रोड, एमजी रोड पर 56 दुकान व शिवाजी वाटिका चौराहे पर एमवायएच व पीपल्याहाना की तरफ भुजा उतारना प्रस्तावित किया है। नए प्रस्ताव में आई बसें नीचे ही चलेंगी, जबकि एलिवेटेड ब्रिज पर बाकी वाहन चलेंगे। अफसरों का कहना है कि इससे बीआरटीएस पर ट्रैफिक का काफी दबाव कम हो जाएगा।

 

एक भुजा ग्रेटर कैलाश रोड, दो शिवाजी वाटिका चौराहे पर उतरेंगी

 

श्रीमाया होटल के सामने से शुरू होकर नौलखा के आगे उतरेगा कॉरिडोर
मंगलवार को भोपाल से आए पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण यंत्री एमपी सिंह के अलावा कार्यपालन यंत्री गिरिजेश शर्मा, पी कनाते, मनोज जैन ने एलआईजी से आगे श्रीमाया होटल से नौलखा पर बिजली कंपनी के सब स्टेशन तक का दौरा किया, जहां एलिवेटेड ब्रिज बनना है। इसके बाद इन्होंने शिवाजी वाटिका, पलासिया, अपोलो टॉवर, ग्रेटर कैलाश रोड का मुआयना किया व नपती करके प्रस्तावित भुजाओं का खाका खींचा। इस प्रस्ताव से करीब छह किमी लंबे ब्रिज में दो भुजाएं दाईं तरफ, जबकि दो भुजाएं बीआरटीएस के बाईं तरफ उतरेंगी।

 

खंडवा रोड फोर लेन चौड़ीकरण के लिए मार्किंग 2 नवंबर को होगी

 खंडवा रोड की 50 से ज्यादा कॉलोनियों में रहने वाले लोगों के लिए सुकून देने वाली खबर है। रोड चौड़ीकरण को लेकर मंगलवार को निगम और एनएचएआई के अधिकारियों ने पूरी रोड का दौरा किया। 2 नवंबर को फिर अधिकारी इस रोड पर निकलेंगे और चौड़ाई की मार्किंग की जाएगी। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) द्वारा खंडवा रोड को फोर लेन किया जाएगा। इसके मुख्य कैरेज वे में आ रही अड़चनों को देखने के लिए एनएचएआई के रीजनल ऑफिसर विवेक जायसवाल एवं प्रोजेक्ट डायरेक्टर मनीष असाटी मंगलवार को निगमायुक्त आशीष सिंह, अपर आयुक्त संदीप सोनी एवं निगम के इंजीनियरों के साथ खंडवा रोड पर निकले। निरीक्षण के दौरान सड़क में आ रही बाधाओं को हटाने के संबंध में चर्चा की गई। मुख्य रूप से विद्युत लाइन बड़ी बाधा है। इसे हटाने के लिए बिजली कंपनी से बात की जाएगी। वाटर सप्लाय लाइन और ड्रेनेज लाइन कैरेज-वे के बाहर है। बीच के हिस्से में 400 मीटर का भाग कैरेज-वे में आ रहा है। सड़क सेंट्रल लाइन से दोनों तरफ 7-7 मीटर चौड़ी बनेगी। इसके लिए मार्किंग 2 नवंबर को की जाएगी। इसके बाद सड़क में बाधक सभी तक तरह के निर्माण, कब्जों को हटाने का काम निगम द्वारा किया जाएगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना