• Hindi News
  • Mp
  • Indore
  • BSF inspector hanged after returning from duty, wife involved in marriage went to Gwalior

आत्महत्या / बीएसएफ निरीक्षक ने ड्यूटी से लौटकर लगाई फांसी, शादी में शामिल हाेने ग्वालियर गई थी पत्नी

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • रात में दूधवाला दूध देने पहुंचा तो पता चली घटना, फिलहाल आत्महत्या का कारण पता नहीं
  • 26 को भतीजे की शादी में शामिल होने जाना था ग्वालियर, परिजन बोले- कोई तनाव नहीं था

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2020, 05:34 PM IST

इंदौर. बीएसएफ के एक निरीक्षक ने अपने क्वार्टर में फांसी लगाकर जान दे दी। उन्होंने ऐसा क्यों किया, यह अभी पता नहीं चला है। पुलिस और बीएसएफ आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है।


एरोड्रम टीआई अशोक पाटीदार के अनुसार, बीएसएफ कैंपस में रहने वाले 57 वर्षीय निरीक्षक सत्येंद्र सिंह कुशवाह ने गुरुवार सुबह घर में फांसी लगाकर जान दे दी। वे सीपीडब्ल्यूडी की एमटी शाखा में पदस्थ थे। बताया गया है कि वे सुबह नौकरी पर गए थे और लंच के बाद उन्हें पुन: जाना था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। रात 8 बजे बाद जब उनका दूध वाला पहुंचा तो दरवाजा अंदर से नहीं खोलने पर उसने पड़ोसियों को सूचना दी। इस पर बीएसएफ की टीम ने सर्चिंग की और पता चला कि अंदर कुशवाह ने फांसी लगा रखी है। ग्वालियर में रहने वाले उनके परिजन को सूचना दी गई।

रिश्तेदारों ने बताया कि कुशवाह मूल रूप से ग्वालियर के रहने वाले हैं और उनकी पत्नी अभी एक शादी के सिलसिले में ग्वालियर में ही है। उनका बड़ा बेटा ग्वालियर में रहता है और बामोर में एक स्कूल में पढ़ाता है। छोटा बेटा भीम सिंह मुंबई स्थित भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र में वैज्ञानिक हैं। 26 फरवरी को उनके भतीजे की शादी थी, जिसमें उन्हें शामिल होने जाना था। परिजन का कहना है कि जब पूरा परिवार आर्थिक रूप से मजबूत है तो उन्हें कोई तनाव नहीं था। इसलिए कारण बताना मुश्किल है। वहीं बीएसएफ के लोगों का भी कहना है कि काम के लिए उन्हें कोई तनाव नहीं था। इसलिए पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। फिलहाल शव परिजन को सौंप दिया गया है।

पत्नी के वियोग में फांसी लगाई
उधर, छोटा बांगड़दा में रहने वाले 27 वर्षीय अनिल चौहान ने गुरुवार दोपहर को पत्नी के वियोग में फांसी लगाकर जान दे दी। वह ड्राइवर था, लेकिन 4 महीने पर काम पर नहीं गया था। दोपहर में जब कमरे में कोई नहीं था तो उसने फांसी लगा ली। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि अनिल की पत्नी 7 सालों से मायके में रह रही थी। इससे वह खासा तनाव में आ चुका था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना