--Advertisement--

स्पार्किंग होते देख लोगों में हड़कंप मच गया

स्पार्किंग होते देख लोगों में हड़कंप मच गया

Danik Bhaskar | Jan 27, 2018, 11:48 AM IST

इंदाैर। कार से चोरी की एलसीडी बेचने की फिराक में घूम रहे दो बदमाशों को क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को लसूड़िया से पकड़ा है। ये लोग कार से चोरी की वारदातों को अंजाम देते थे। टीम ने उनके पास से कार और चोरी का माल जब्त किया है। आरोपियों के एक साथी की तलाश जारी है। आरोपी नशे की लत को पूरा करने के लिए वारदातों को अंजाम दे रहे थे।


- एएसपी क्राइम ब्रांच अमरेंद्र सिंह चौहान ने बताया मुखबीर ने सूचना दी थी कि दो बदमाश लसूडिया इलाके में सफेद रंग की कार से एलसीडी बेचने के लिए घूम रहे हैं। टीम ने घेराबंदी कर उन्हें पकड़ा तो उन्होंने अपना नाम विवेक उर्फ वैभव पिता सुनिल माहेश्वरी निवासी स्कीम नंबर 78 और रूपेश उर्फ छोटू पिता रामू जोशी निवासी राजीव आवास विहार होना बताया। उसने एलसीडी के बारे में पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि बापू गांधी नगर के बजरंगी के घर से दोस्त अमन चौहान के साथ मिलकर चोरी की है। अमन ने ही इसे बेचने के लिए बोला था।

- पूछताछ में पता चला है कि रूपेश जोशी रेलवे स्टेशन पर इंदौर में गार्ड ट्रेन लॉकिंग का काम करता है। उसे बड़े भाई ने रेल्वे स्टेशन पर लगवाया था। बीते 8 सालों से वह रेलवे विभाग में काम कर रहा है। वह अपने दोस्त अमन चौहान व विवेक माहेश्वरी के साथ बजरंगी के यहां गांजा खरीदने गए थे। जहां गांजा लेने के बहाने अमन ने बजरंगी के बेटे को चाकू अड़ाकर एलसीडी, मोबाइल व रुपए लूट लिए थे, जो विवेक अपनी कार में रखकर ले गया था।


- विवेक ने बताया कि वह हर्बल लाइफ न्यूट्रीशियन में काम करता है। अमन उसके बचपन का दोस्त है। विवेक पूर्व में अपने भाई पर भी जानलेवा हमला करने के मामले में लसूडिया थाने में गिरफ्तार हो चुका है। इधर, मामले में अमन की तलाश की जा रही है, जो एरोड्रम इलाके में किराए के मकान में रह रहा है। एएसपी चौहान ने बताया आरोपी ब्राउन शुगर और गांजा पीने के आदि हैं। नशे की लत को पूरा करने के लिए चोरी की वारदातों को अंजाम दिया करते थे।