--Advertisement--

तलजकहह

तलजकहह

Danik Bhaskar | Jan 09, 2018, 04:54 PM IST
पुलिस की जनसुनवाई में पीड़ित मह पुलिस की जनसुनवाई में पीड़ित मह

इंदौर। सर, मैं काफी परेशान हूं। मेरे साथ प्रेग्नेंसी के 9वें महीने में एक व्यक्ति ने घर में घुसकर ज्यादती की है। उसके खिलाफ मैंने पति के साथ बेटमा थाने में शिकायत की थी। पुलिस ने आरोपी को थाने बुला कर फटकार लगाई थी, लेकिन उसके खिलाफ काेई कार्रवाई नहीं की। वह बेखौफ बाहर घूम रहा है। मैं उस पर कार्रवाई के लिए थाने के चक्कर काट रही हूं, लेकिन वहां सुनवाई नहीं हो रही। ये बात मंगलवार को पुलिस की जनसुवाई में आई सागौर कुटी (बेटमा) इलाके की एक विवाहिता ने एसपी मोहम्मद युसुफ कुरैशी को की।

- महिला ने बताया उसका पति रोड कांट्रेक्टर है। 18 अक्टूबर को वह काम के सिलसिले में महाराष्ट्र गया था। 21 अक्टूबर को देर रात इलाके में रहने वाला आरोपी गुड्‌डू उसके घर आया था। उसने दरवाजा खटखटाया तो उसे लगा पति आए होंगे, लेकिन दरवाजा खोलते ही गुड्‌डू धमकाते हुए घर में आ घुसा और ज्यादती की।

- 25 अक्टूबर को पति घर लौटे तो उन्हें घटना बताई। हम शिकायत करने बेटमा थाने पहुंचे, वहां एसआई से मिले। उन्होंने शिकायत लेकर आरोपी को थाने बुलाया और फटकार लगाई। इसके बाद हम घर लौट आए। बाद में तीन-चार दिन बाद आरोपी हमें फिर घर के आस-पास घूमता नजर आया। इस पर दोबारा उसकी शिकायत थाने में की तो पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की और हमारी शिकायत को नजर अंदाज कर दिया। इसके बाद डिलिवरी का समय आने से वे फिर रिपोर्ट करने नहीं गए।

- महिला ने बताया उसे हाल ही में डिलिवरी भी हुई है। उसी के बाद अब वापस शिकायत के लिए मां के साथ आई हूं। मामले में एसपी ने महिला थाना प्रभारी को घटना की जांच के लिए आदेशित किया है।