Home | Madhya Pradesh News | Indore News | Engineering student tragic story bhurhanpur mp

फिल्मी स्टाइल में ४० लोग खड़े थे हमारे सामने, इंजीनियरिंग स्टूडेंट की ३ घंटे की वो डरावनी स्टोरी

फिल्मी स्टाइल में ४० लोग खड़े थे हमारे सामने, इंजीनियरिंग स्टूडेंट की ३ घंटे की वो डरावनी स्टोरी

Rajeev Tiwari| Last Modified - Feb 06, 2018, 12:15 PM IST

1 of
Engineering student tragic story bhurhanpur mp
पीड़िता इशरत (नर्सिंग छात्रा) व नुसरत (इंजीनियरिंग छात्रा) ने एसपी को बताई पूरी कहानी।

इंदौर। बुरहानपुर में असीरगढ़ स्थित ढाबे पर 40 से ज्यादा बलवाइयों ने जमकर तोड़फोड़ कर उत्पात मचाया। ढाबा संचालक वृद्ध महिला की दो बेटियों के साथ मारपीट कर अश्लील हरकत की। पुलिस की मौजूदगी के बावजूद आरोपियों ने आतंक मचाया। महिला ने अपनी बेटियाें के साथ तीन घंटे तक पलंग के नीचे छिपकर जान बचाई। पुलिस ने मामले में काउंटर केस दर्ज किया। इससे महिला और उसकी बेटियां आक्रोशित हो गईं। 


 

- पीड़िता इशरत (नर्सिंग छात्रा) व नुसरत (इंजीनियरिंग छात्रा) ने बताया कि सोमवार को डेढ़ घंटे इंतजार के बाद एसपी पंकज श्रीवास्तव से मुलाकात हुई। नुसरत ने कहा हम पांच महीने से सूचना दे रहे हैं। उसी समय कार्रवाई हो जाती तो आज यह हरकत नहीं होती।  पूर्व नियोजित ढंग से पूरे गांव वाले ढाबा तोड़ने पहुंचे। उन्होंने उत्पात मचाया। हम पलंग के नीचे छिपे तो जान बची। मेरे और बहन के साथ अश्लील हरकत की गई। यह बात रिपोर्ट में थाना प्रभारी संदीप चौरसिया ने लिखी ही नहीं है। 

 

- बहनों ने तीखे शब्दों में एसपी के सामने आक्रोश जताया। दोनों ने कहा- जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होगी। हम यहां से नहीं जाएंगे। एसपी ने दोनों छात्राओं को बाहर जाने को कहा। एसपी ने दोनों बहनों से कहा- दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज किए गए हैं। कार्रवाई करेंगे। अतिक्रमण का मामला पंचायत का है। वे ही देखेंगे। पंचायत पुलिस की मदद लेगी तो जरूर करेंगे। 


- एसपी से मिलने के बाद बहनें कलेक्टर दीपकसिंह से मिलीं। कलेक्टर को मामला बताया। कलेक्टर ने पूछा आपके पास कोई सबूत है। बहनों ने कहा- फोटो और वीडियो हैं। कलेक्टर ने फोटो और वीडियो की सीडी बनाकर देने के लिए कहा और कार्रवाई का आश्वासन दिया। 

 

विवाद के कारण नहीं दी अंतिम वर्ष की परीक्षा 
- ढाबा संचालक जुलेखाबी की बड़ी बेटी इशरत नर्सिंग की छात्रा है। इस अंतिम वर्ष की परीक्षा है, लेकिन वह दहशत के कारण 20 दिन से कॉलेज नहीं गई है। डर है कि आरोपी कहीं उसके साथ रास्ते में कोई वारदात न कर दे चूकिं पुलिस को लगातार शिकायतों के बाद भी आरोपियों पर लगाम नहीं लगाया जा रहा। इशरत ने बताया कि मेरा छोटा भाई अजहरउद्दीन बुरहानपुर के इंजीनियरिंग कॉलेज में कंम्प्यूटर साइंस प्रथम वर्ष में अध्ययनरत है। विवाद क कारण वह भी 20 दिन से कॉलेज नहीं गया। छोटी बहन नूरजहां की पढ़ाई छूट गई पांच माह से कॉलेज नहीं गई भोपाल इंजीनियरिंग कॉलेज से इस साल अंतिम वर्ष के पेपर देना थे जो कि वह नहीं दे पाई। 


 
यह है विवाद 
- असीरगढ़ में हाईवे पर जुलेखाबी और उसके पति आमीन ने करीब 20 साल पहले सरकारी जमीन पर कब्जा कर ढाबा बना लिया था, जो कि अब तक संचालित है। इसके बावजूद व मस्जिद कमेटी व पंचायत को समय-समय पर टैक्स के रूप में रुपए देते आए हैं। लेकिन अब ढाबे को ग्राम पंचायत के कुछ भाजपा नेता हटाना चाहते हैं। पांच महीने पहले भाजपा नेताओं ने ढाबा संचालक की बेटी को सर्किट हाउस में बुलाया था। तब से इस मामले ने तूल पकड़ लिया। 
 

Engineering student tragic story bhurhanpur mp
एसपी के बाद कलेक्टर से भी मिली दोनों बहनें।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now