--Advertisement--

सीसीटीवी में कैद हार की खीझ, जीते हुए उम्मीद्वार के घर बाहर मटके में लगा दी आग

सीसीटीवी में कैद हार की खीझ, जीते हुए उम्मीद्वार के घर बाहर मटके में लगा दी आग

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 02:21 PM IST
निर्दलीय उम्मीद्वार मंजू माल निर्दलीय उम्मीद्वार मंजू माल

इंदौर। शनिवार को नगरीय निकाय चुनाव के परिणाम आने के बाद हार की खीझ अब प्रत्याशियों के चेहरे पर दिखाई देने लगी है। ऐसा ही एक मामला बड़वानी के राजपुर में देखने को मिला। यहां एक निर्दलीय प्रत्याशी के घर पर शनिवार देररात कुछ नकाबपोशों ने आगजनी कर दी। समय रहते आग पर काबू पा लिया गया नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था। प्रत्याशी के परिजनों का आरोप है कि हार के बाद कांग्रेस के प्रत्याशी ने आग लगवाई है।

- मिली जानकारी अनुसार इस बार बड़वानी की राजपुर नगर निकाय जिले में चर्चा का विषय रही। क्योंकि कांग्रेस के नानेश चौधरी को क्षेत्र से कांग्रेस विधायक व उप नेता प्रतिपक्ष रहे बाला बच्चन का समर्थन था। उन्होंने नानेश के समर्थन में लगातार प्रचार किए। वहीं बीजेपी से खरगोन-बड़वानी सांसद सुभाष पटेल के लिए भी यह सीट प्रतिष्ठा का विषय थी। क्योंकि बीजेपी प्रत्याशी पप्पू मुकेश कुशवाह को उनका समर्थन था।

- शनिवार को आए चुनाव परिणाम में कांग्रेस के नानेश चौधरी थोड़े अंतर से भाजपा पप्पू पानवाले से हार गए। निर्दलीय प्रत्याशी मंजू राजेंद्र मालवीय का कहना है कि कांग्रेस प्रत्याशी नानेश चौधरी हार की वजह उन्हें मान रहे हैं। इसलिए उसने अपने दो भतीजों आकाश और विक्की चौधरी के साथ मिलकर घर के बाहर बने मेरे चुनाव चिंह मटका को आग के हवाले कर दिया।

- राजेंद्र ने बताया कि पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। उन्होंने बताया कि दो लोग बाइक से मुंह बांधकर मेरे घर के पास आकर रुके और फिर एक बाइक से उतरकर मेरे चुनाव चिंह मटका के पास पहुंचा। उसने पहले मटका पर पेट्रोल डाला और दूसरे ने माचिस की टीली फेंककर आग लगा दी। इसके बाद वे वहां से फरार हो गए। आग लगते ही क्षेत्र में हड़कंप मच गया। आवाज सुन परिजन भी बाहर आए और आग बुझाने की कोशिश की।

- राजेंद्र मालवीय की शिकायत पर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गौरतलब है कि मंजू के पति राजेंद्र मालवीय इसके पहले कांग्रेस से नगर परिषद अध्यक्ष रह चुके हैं। ऐसा माना जा रहा है कि मंजू के चुनाव में खड़े होने से कांग्रेस प्रत्याशी की हार हुई है। क्योंकि हार का मार्जिन 100 मतों के करीब है।

उधर, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष सचिन जोशी का कहना है कि पूरे मामले में नानेश काे फंसाया जा रहा है। जिस समय ये घटना घटी नानेश यहां नहीं थे। नारेश ने बताया कि उन्हें रात करीब एक बजे घटना की जानकारी लगी थी। मेरे द्वारा ये हरकत नहीं की गई है। ये सब राजनीतिक षड़यंत्र है। मैंने अपनी हार स्वीकार कर बीजेपी प्रत्याशी को बधाई भी दे दी है।

- टीआई बलदेवसिंह मुजाल्दा ने बताया कि घटना देररात की है। राजेंद्र मालवीय ने नानेश चौधरी, विक्की और आकाश के खिलाफ शिकायत की है। मामले की जांच की जा रही है।