--Advertisement--

मौत के पहले रात में बेटे से ये इच्छा जताई थी पिता ने, पोती ने कही थी ये बात

मौत के पहले रात में बेटे से ये इच्छा जताई थी पिता ने, पोती ने कही थी ये बात

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 07:01 PM IST
कन्याकुमारी में सड़क हादसे में कन्याकुमारी में सड़क हादसे में

इंदौर। मदुरै हादसे में पलसीकर कॉलोनी में रहने वाले सराफा व्यापारी दंपति की मंगलवार रात मौत हो गई। चार दिन पहले कन्हैयालाल पिता बालचंद सेवलानी उनकी पत्नी रेखा सेवलानी और साली तुलसी टेडानी निवासी रिंग रोड उज्जैन के रिश्तेदारों के साथ गुरुदर्शन के लिए चेन्नई गए थे। चेन्नई के पास उनके गुरु सतनाम साखी टेवराम का आश्रम है। जहां से दर्शन करने गए थे। परिवार के लोग उज्जैन से ट्रेन से चेन्नई गए थे।



- कन्हैयालाल के तीन बेटे हेमंत, दीपक व नरेश सेवलानी व एक बेटी है। सभी की शादी हो चुकी है। बेटे हेमंत ने बताया माता-पिता पहली बार ही गुरुदर्शन के लिए गए थे। उनके साथ उज्जैन में रहने वाला मामा रमेश पिता लीलाराम पोवानी और बड़ी मामी विद्या पति अन्नुमल पोवानी भी अन्य लोगों के साथ गुरुदर्शन को गए थे। गुरुदर्शन के बाद वे रामेश्वर दर्शन करने गए। वहां से वे कन्याकुमारी जाकर इंदौर आने वाले थे, लेकिन रास्ते में ही उनकी गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया। रात करीब ढ़ाई बजे मामी के फोन से पुलिस ने उनके बेटे को फोन कर एक्सीडेंट की जानकारी दी। सुबह 6 बजे उनके बेटे ने हेमंत को फोन कर घटना का बताया।



ये हुई थी आखरी बात...
- मंगलवार रात करीब 10 बजे कन्हैयालाल ने बेटे नरेश को फोन किया था। बेटे से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि पोती अमृत और काव्या की बहुत याद आ रही है। इसके बाद उन्होंने पोतियों से बात इसी दौरान उनका फोन कट गया। इसके बाद फिर कॉल नहीं लगा और सुबह उनके मौत की खबर आई।