--Advertisement--

सिनेमाघरों के बाहर दिखा ऐसा बोर्ड, पद्मावत को लेकर इंदौर सहित कई शहरों में बंद

सिनेमाघरों के बाहर दिखा ऐसा बोर्ड, पद्मावत को लेकर इंदौर सहित कई शहरों में बंद

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 10:19 AM IST
इंदौर में सिनेमाघरों के बाहर इ इंदौर में सिनेमाघरों के बाहर इ

इंदौर. फिल्म पद्मावत को लेकर करणी सेना के विरोध के बावजूद देशभर के 7 हजार सिनेमाघरों में फिल्म को रिलीज कर दी गई। लेकिन मप्र सहित 4 राज्यों में फिल्म को प्रदर्शित नहीं की गई। विरोध को देखते हुए इंदौर के किसी भी सिनेमाघर में पद्मावत रिलीज नहीं हुई। ऐहतियात के तौर पर मॉल संचालकों ने बोर्ड भी लगा दिए और कहा कि वे पद्मावत का प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं। करणी सेना और अभा हिंदू महासभा के आह्वान पर गुरुवार को शहर बंद है। फिल्म रिलीज नहीं होने के बावजूद प्रदेशभर में विरोध जारी है।

- करणी सेना के प्रदेश प्रभारी रघु परमार और महासभा के अध्यक्ष दीपेंद्रसिंह सोलंकी ने कहा कि हमने बंद के दौरान सिर्फ दुकानें बंद रखने का आह्वान किया है। हम शांतिपूर्वक आंदोलन करते हुए दुकानें बंद करवा रहे हैं। उधर, डीआईजी ने साफ कर दिया है कि जनता या संपत्ति को क्षति पहुंचाई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

- इंदौर के अलावा उज्जैन, रतलाम, मंदसाैर, धार, झाबुआ, देवास और महू में भी बंद है। बंद में स्कूलों को शामिल नहीं किया गया है। एसो. ऑफ अनएडेड सीबीएसई स्कूल, इंदौर सहोदय स्कूल, आईसीएसई स्कूल्स एसो. ने देर रात स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि सभी स्कूल खुले रहेंगे।

जबलपुर, छतरपुर और पन्ना में भी नहीं होगी रिलीज

- जबलपुर में फिल्म रिलीज के पहले मॉल संचालकों ने कलेक्टर से मिलकर साफ कर दिया कि वह अपने यहां फिल्म को प्रदर्शित नहीं करेंगे। छतरपुर और पन्ना में भी करणी सेना की धमकी के चलते टॉकीज संचालकों ने अपने कदम पीछे खींच लिए है। फिल्म रिलीज नहीं करने का फैसला सभी टॉकीज संचालकों ने लिया है।



जावरा में ट्रक तो भोपाल में कार फूंकी

रतलाम-जावरा फोरलेन पर ढोढर के पास केमिकल से भरे एक ट्रक को अज्ञात लोगों ने आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने क्षेत्र में अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं भोपाल के ज्योति सिनेमाघर के बाहर एक कार को आग के हवाले कर दिया। बोहरा समाज ने भी पद्मावत फिल्म का विरोध कर दिया है। समाज से जुड़े जौहर मानपुरवाला ने कहा इस मामले में हम राजपूतों के साथ हैं। हम फिल्म का बहिष्कार करते हैं।

मप्र में फिल्म न लगने से रोजाना 30 लाख का नुकसान
-मप्र में पदमावत 200 स्क्रीन पर लगने वाली थी। इन स्क्रीन में औसतन 400 से 500 शो रोज दिखाए जाने थे। यानी फिल्म के रिलीज न होने की स्थिति में मध्यप्रदेश में रोजाना 30 लाख रुपए का नुकसान होगा।

X
इंदौर में सिनेमाघरों के बाहर इइंदौर में सिनेमाघरों के बाहर इ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..