--Advertisement--

किडनैपर के चंगुल से छूटे नेता के बेटे ने कहा, होश आया तो बिस्तर पर था, पढ़ें पूरी स्टोरी

किडनैपर के चंगुल से छूटे नेता के बेटे ने कहा, होश आया तो बिस्तर पर था, पढ़ें पूरी स्टोरी

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2017, 06:24 PM IST
राहुल सोमवार सुबह सामान खरीदन राहुल सोमवार सुबह सामान खरीदन

इंदौर। अपहरण के 14 घंटे बाद पीथमपुर के पूर्व नपाध्यक्ष ब्रह्मानंद के बेटे व हार्डवेयर व्यवसायी राहुल रघुवंशी को अपहर्ता पीथमपुर से चार किमी दूर टीही गांव के पास झाड़ियों के पीछे छोड़कर भाग गए। उनसे छूटकर राहुल एक ढाबे पर पहुंचा और अपनी मां मुन्नीबाई को फोन पर सूचना दी। परिजन मौके पर पहुंचे व किशनगंज पुलिस को सूचना देकर महू के सिविल अस्पताल में मेडिकल करवाया। पढ़ें, अपहरण से छूटने तक की पूरी कहानी...

 

 

- राहुल सोमवार सुबह सामान खरीदने इंदौर जा रहा था। गांव से आठ किमी दूर भैंसलाय फाटे के पास से कुछ लोगों ने उसका अपहरण कर लिया। अपहर्ताओं ने राहुल के पिता ब्रह्मानंद को कॉल कर तीन करोड़ रुपए की मांग की। पिता ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।
-  पुलिस उसे खोज ही रही थी कि देर रात करीब एक बजे वे राहुल को राऊ-खलघाट फोरलेन स्थित टीही गांव में रेलवे कंटेनर डिपो के पास झाड़ियों में छोड़कर भाग गए। यहां से राहुल एक ढाबे पर पहुंचा और परिजनों को कॉल कर सूचना दी। परिजन के साथ मौके पर पहुंची पुलिस उसे अस्पताल लेकर पहुंची, जहां उसका मेडिकल करवाया गया।


राहुल की जुबानी पूरी कहानी....
- राहुल ने बताया कि मैं सुबह साढ़े 10 बजे के करीब कार से खरीदी करने  इंदौर जा रहा था। जैसे ही मैं भैंसलाय के पास नरलाई फाटे पर पहुंचा। कुछ लोगों ने मुझे ओवरटेक कर अपनी गाड़ी मेरी गाड़ी के आगे लगा दी। गाड़ी के रुकते ही दो लोग कार से उतरे और बंदूक तानकर मुझे अपनी गाड़ी में बिठा लिया।


- कार के भीतर दो लोग सवार थे, जिन्होंने मेरे हाथ-पैर और आंखों पर काली पट्‌टी बांध दी। चलती कार में उन्होंने जबरन मुझे कुछ पिलाया, जिसके बाद मैं बेहोश हो गया। होश आया तो मेरी आंख पर पट्‌टी बंधी हुई थी और मुझे एक कमरे में बिस्तर पर लिटा रखा था।

 
- इसके बाद उन्होंने कहा कि तेरे बाप ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया है। इसलिए हम तुझे छोड़ रहे हैं। इसके बाद कार में बिठाया और बोले कि अब तेरे बाप ने चुनाव लड़ने की बात कही तो तेरी दुकान में आग लगा देंगे और गोली मार देंगे। कुछ दूरी पर उन्होंने मुझे कार से ये कहते हुए उतार दिया कि आंख की पट्टी अभी मत खोलना। 


- जब वे चले गए तो मैंने आंख से पट्‌टी हटाई। मैं झाड़ियों के बीच पड़ा था कुछ दूर गया तो एक पेट्रोल पंप दिखा और पास में एक ढाबा भी था। यहां एक युवक ने मोबाइल मांगकर पापा को फोन लगाया, जब उन्हें नहीं लगा तो मम्मी को कॉल किया। उनसे बताया कि वे लोग मेरे दो मोबाइल, डेढ़ लाख रुपए नकद, चेक व एक तोले की सोने की चेन ले गए है।

 

X
राहुल सोमवार सुबह सामान खरीदनराहुल सोमवार सुबह सामान खरीदन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..