Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News» Mahashivaratri Special Story, Chola Samshan Shiva Temple Indore Mp

श्मशान में देर रात होते हैं भोलेनाथ के दर्शन, बड़ी संख्या में पहुंचती हैं महिलाएं

श्मशान में देर रात होते हैं भोलेनाथ के दर्शन, बड़ी संख्या में पहुंचती हैं महिलाएं

Rajeev Tiwari | Last Modified - Feb 14, 2018, 10:38 AM IST

भोपाल।महाशिवरात्रि पर आधी रात भोपाल के छोला विश्राम घाट में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे। ये सभी श्मशान घाट स्थित मंदिर में भोलेनाथ के दर्शन को पहुंचे थे। वैसे तो श्मशान घाट में महिलाएं कम ही जाती हैं, लेकिन शिव के दर्शन को बड़ी संख्या में महिलाएं परिजनों के साथ अपनी मनोकामना लेकर यहां पहुंचीं। ऐसी मान्यता है कि शिवरात्रि की रात इस मंदिर में भोले के दर्शन पश्चात मांगी गई मुराद जरूर पूरी होती है।



- पंडित गोपाल कृष्ण चौबे ने बताया कि भोपाल के छोला श्मशान घाट पर शिवरात्रि पर रातभर भक्तों का मेला लगता है। यहां भोले के दर्शन को छोटे- बड़े, महिलांए बड़ी संख्या में पहुंचती हैं।
- उन्होंने बताया कि छोला श्मशान घाट भोपाल का सबसे पुराना श्मशान घाट है। यहीं पर एक शताब्दी वर्ष पुराना एक शिव मंदिर है। भोपाल स्थित एकमात्र श्मशान घाट स्थित शिवमंदिर में महाशिवरात्रि पर रातभर भक्तों का मेला लगा।


- महाशिवरात्रि पर बड़ी संख्या में यहां भक्त पहुंचे और भगवान शिव-पार्वती के विवाह में शामिल हुए। यहां शिवजी का श्रृंगार चिता की भस्म से किया गया। पंड़ित के अनुसार शिवरात्रि पर सात मुर्दों की भस्म शिव जी को अर्पण की गई है। यहां मंदिर को फूल बंगले का रूप दिया गया। रंग-बिरंगे फूलों से मंदिर को सजाया गया और भगवान को भोग लगाया गया। ऐसी मान्यता है कि शिवरात्रि पर पूजन से सारी मुरादें पूरी होती हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Indore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×