Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News» Makar Sankranti Celebration Indore Mp

छेड़छाड़

छेड़छाड़

Rajeev Tiwari | Last Modified - Jan 12, 2018, 05:14 PM IST

इंदौर।मकर संक्रांति पर रविवार को सूर्य के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही उत्तरायण हुआ। सर्वार्थसिद्धि और रवि प्रदोष के संयोग में लोगों ने तिल-गुड़ का दान किया। मंदिरों में विशेष शृंगार हुआ। लोगों ने तिल-गुड़ से बने व्यंजनों का भोग लगाया। विद्याधाम में सूर्य यज्ञ हुआ और पतंगोत्सव भी मना। छतों और मैदान से लोगों ने पतंग उड़ाई। इसके अलावा गिल्ली-डंडे, सितौलिया का खेल भी हुआ। बंगाली कॉलोनी, विजय नगर, सुपर कॉरिडोर सहित शहर के अन्य क्षेत्रों में पतंगोत्सव का आयोजन भी हुआ।


- मकर संक्रांति पर इस बार पुण्यकाल दिनभर था। साथ ही कई योग-संयोग बने जिसके कारण मकर संक्रांति का उत्सव दोगुना रहा। सुबह लोगों ने भगवान सूर्य को अर्घ्य दिया। इसके बाद दान-पुण्य किया। घरों में खिचड़ी उत्सव बना। मकर संक्रांति पर खजराना गणेश मंदिर, अन्नपूर्णा, गौराकुंड स्थित प्राचीन दुर्गा माता मंदिर विद्याधाम सहित शहर के अन्य मंदिरों म विशेष शृंगार हुआ।

- पश्चिमी क्षेत्र में रहा पतंग उत्सव का खासा माहौल
शहर के पश्चमी क्षेत्र में पतंग उत्सव का खासा माहौल रहा। मल्हारगंज से लेकर एयरपोर्ट रोड, सुदामानगर, अन्नपूर्णा सहित पश्चिम क्षेत्र की कॉलोनियों में हर और पतंगों से आसमां रंग-बिरंगा रहा। लोगों ने डी.जे लगाए। पतंग के खूब पेंच लड़े और दिनभर काटा है कि गूंज रही।

लड़कियां भी नहीं रहीं पीछे

संक्रांति लड़के ही नहीं यहां लड़कियों ने भी जमकर पतंगबाजी की। शहर में पतंगबाजों का जुनून देखने लायक था। हर वर्ग मैदान और छतों पर पतंगबाजी करता दिखाई दिया। लड़कियों ने परिवार के साथ जमकर पतंबगाजी की और एक-दूसरे की पतंग लूटी। कई जगह पर डीजे भी लगाया गया है। यहां बॉलीवुड गानों पर डांस के साथ पतंगबाजी की जा रही है।

डोरेमॉन से लेकर छोटा भीम तक आसमान पर

डोरेमॉन, छोटा भीम, एग्री बर्ड्स, ड्रैगन और बैटमैन। इस बार ये कार्टून कैरेटक्टर्स टीवी की स्क्रीन पर नहीं, बल्कि रविवार को विशाल आसमान में तैरते नजर आए। इनके खूबसूरत रंग, आकार और साइजेस में इतनी वैराइटी थी कि ये सबके आकर्षण का केंद्र थे। और ये सब पतंगों के रूप में आसमान में अपनी खूबसूरत कलाबाज़ियां दिखा रहे थे। मकर संक्रांति पर 2 सेंटीमीटर से लेकर 80 फीट तक की पतंगें उड़ाई गई।

महाकाल में मना तिल उत्सव

- उज्जैन में महाकाल मंदिर में मकर संक्रांति पर सबसे पहले तिल उत्सव मनाया गया। तड़के 4 बजे भस्मारती में पुजारी भगवान महाकाल का तिल से अभिषेक किया। हरि ओम के जल के बाद भगवान को तिल का उबटन लगाकर स्नान कराया गया इसके बाद रजत आभूषण, नवीन वस्त्र इत्यादि से आकर्षक श्रृंगार किया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Indore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×