--Advertisement--

बेटी बनाकर लाया, पत्नी बनाकर रखा बच्चा होने के बाद सामने आई ये कहानी

बेटी बनाकर लाया, पत्नी बनाकर रखा बच्चा होने के बाद सामने आई ये कहानी

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 02:46 PM IST
मंदसौर के भगवातीलाल ने अपनी मु मंदसौर के भगवातीलाल ने अपनी मु

इंदौर। लड़की को बेटी बनाकर उसे पढ़ाने के बहाने माता-पिता से दूर कर अपने साथ रख उससे दुष्कर्म करने वाले मंदसौर के बिजनेसमैन को पुलिस ने डेढ़ महीने बाद देररात गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने लड़की से 11 साल तक रेप किया और जब वह मां बनी तो उसे घर से निकाल दिया। पुलिस उसे अस्पताल लेकर पहुंची जहां पीड़िता के सामने ही डीएनए टेस्ट के लिए उसके ब्लड का सैंपल लिया गया। आरोपी को देख पीड़िता उसे मारने के लिए लपकी।



- वायडीनगर टीआई जितेंद्रसिंह सिसौदिया ने बताया अक्टूबर में मनासा तहसील के बरड़िया निवासी एक युवती ने गरोड़ा निवासी भगवतीलाल उर्फ बाबू पिता मांगीलाल पाटीदार के खिलाफ ज्यादती की शिकायत की थी। इसमें बताया था आरोपी उसे बेटी बनाकर रखने व पढ़ाने-लिखाने का कह कर 2007 में लेकर आया। नीयत खराब होने पर 6 माह बाद ही ज्यादती शुरू कर दी। मार्च 2016 में आरोपी से एक बेटा हुआ तो उसने उसे छोड़ दिया। शिकायत पर जांच के बाद आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया था। पुलिस आरोपी को जिला अस्पताल लेकर पहुंची, जहां ब्लड का सैंपल लिया गया। यहां ज्यादती की शिकार युवती भी मौजूद थी। जैसे ही पुलिस आरोपी को अस्पताल से कोर्ट ले जाने लगी पीड़िता उसे मारने के लिए दौड़ी, लेकिन पुलिस ने उसे बचा लिया।


आरोपी कहता था- मैं इंटरनेशनल तस्कर हूं, परिवार को मरवा दूंगा, तुझे भी अफीम के केस में फंसा दूंगा...
पीड़िता ने बताया ‘मैं मनासा तहसील के बर्डिया की रहने वाली हूं। बाछड़ा समाज बाहुल गांव होने से गरोड़ा निवासी भगवतीलाल उर्फ बाबू पिता मांगीलाल पाटीदार का आना-जाना था। इसी दौरान उसकी नजर मुझ पर पड़ी। उसने माता-पिता से मेरी पढ़ाई-लिखाई व बेटी की तरह पालन-पोषण का जिम्मा लेने का कहा। तब मेरी उम्र 14 वर्ष थी और मैं 8वीं में पढ़ रही थी। पढ़ाई में रुचि व आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से परिजन ने मुझे उसके साथ भेज दिया।


- आरोपी 7 मई 2007 को मुझे मंदसौर के मेघदूतनगर में एक मकान खरीद कर रखा। कहा- अभी तू नाबालिग है इसलिए बेटे के नाम पर खरीद रहा हूं, बालिग होने पर मकान तेरे नाम कर दूंगा। 6 माह उसने बेटी जैसा रखा। फिर अचानक उसकी नीयत बिगड़ी और ज्यादती शुरू कर दी। विरोध करने पर कहा- मैं इंटरनेशनल तस्कर हूं, तेरे परिवार को जान से मार दूंगा, तुझे भी अफीम के केस में फंसा दूंगा। बड़े राजनेताओं व जज से पहचान होने का डर भी बताया। 2015 में गर्भवती हुई और 31 मार्च 2016 को मनासा के एक नर्सिंगहोम में बेटी को जन्म दिया। भगवतीलाल ने वहां पिता के नाम वाले कॉलम में पंकज लिखवाया। मैंने बेटी को अपना नाम देने व मकान नाम करने का कहा तो हमें घर से निकाल दिया। मैं बेटी को लेकर अपने गांव लौटी और हिम्मत कर 25 अक्टूबर को एसपी से शिकायत की। आरोपी अपनी ब्याहता की तरह रखने लगा। वह समाज व मित्रों के कार्यक्रम में भी साथ ले जाता था।

X
मंदसौर के भगवातीलाल ने अपनी मुमंदसौर के भगवातीलाल ने अपनी मु
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..