Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News» Muslim Women Protested Against Triple Talaq Bill Ujjain Mp

३ तलाक बिल वापस लेने ५ हजार मुस्लिम महिलाएं उतरीं सड़क पर, केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे

३ तलाक बिल वापस लेने ५ हजार मुस्लिम महिलाएं उतरीं सड़क पर, केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे

Rajeev Tiwari | Last Modified - Feb 15, 2018, 05:10 PM IST

इंदौर।उज्जैन में बुधवार को 5 हजार से ज्यादा मुस्लिम महिलाएं सड़क पर उतर आईं। ये महिलाएं लोकसभा में पारित तीन तलाक के नए कानून का विरोध कर रही थीं। मौन रैली में शामिल महिलाओं का कहना था कि वे मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के साथ हैं और जबरन उन पर थोपे जा रहे नए कानून का वे विरोध करती हैं। उन्होंने विरोधस्वरूप एक ज्ञापन भी सौंपा।


- मिली जानकारी अनुसार शहर काजी खालिफुर्रहमान के नेतृत्व में गुरुवार दोपहर 5000 हजार से ज्यादा मुस्लिम महिलाओं ने मौन रैली निकाली। तोपखाना क्षेत्र से शुरू हुई रैली बेगमबाग पर खत्म हुई।


- रैली में शामिल महिलाओं का कहना था कि तीन तलाक बिल मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड के तहत आता है। केंद्र सरकार को कोई हक नहीं है कि वे इसे रोकने के लिए नया कानून लाए।


- महिलाओं इसमें केंद्र सरकार और राष्ट्रपति के खिलाफ लिखी तख्तियां लेकर शामिल हुईं। उन्होंने तख्तियों पर लिख रखा था कि हम पर्सनल लॉ बोर्ड के साथ हैं तीन तलाक कानून वापस लो।


- इसके अलावा तलाक बिल वापस लेने के साथ ही लिखा था कि इस्लामी शरीयत हमारा एजाज है। इस्लामी शरीयत ही हमारी इज्जत है।

हमें अपने कानून के हिसाब से चलने दें
- शहर काजी खालिफुर्रहमान का कहना है कि हमारे पर्सनल लॉ में सब चीजें मौजूद हैं। कोई हम पर नया कानून लागू करने की कोशिश ना करे। हम अपने कानून के हिसाब से चलना चाहते हैं। हम तीन तलाके के इस नए कानून का विरोध करते हैं।


- सय्येद अफरेदा ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के हम साथ हैं। बोर्ड जो बोलेगा हमारे हक में बोलेगा, हमारी शरीयत के साथ बोलेगा। हमारी शरीयत में दखलंदाजी हमारी मुस्लिम बहनों, माओं को पसंद नहीं हैं। हम इसी के खिलाफ सरकार को हमारा करारा जवाब है। सरकार समझ ले कि मुस्लिम महिलाएं क्या चाहती हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Indore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×