Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News» Salman Khan Birthday Special Story Indore Mp

जन्म के समय ४ किलो के थे सलमान, दाई को रोज एक घंटे तक करना पड़ता था यह

जन्म के समय ४ किलो के थे सलमान, दाई को रोज एक घंटे तक करना पड़ता था यह

Rajeev Tiwari | Last Modified - Dec 27, 2017, 11:57 AM IST

इंदौर। ये माना जाता है कि सुपर स्टार सलमान खान अपने वादे के पक्के हैं। उनकी दरियादिली के कई किस्से बाॅलीवुड में प्रचलित हैं, लेकिन उनकी जन्मभूमि इंदौर में 75 साल की उनकी दाई मां को आज भी उनके वादे पूरे होने का इंतजार है। 4 साल पहले एक फिल्म के प्रमोशन के लिए इंदौर आए सलमान ने अपनी दाई से उनकी पोती की जिम्मेदारी उठाने की बात कही थी, लेकिन मुंबई लौटने के बाद सलमान ने अब तक इस ओर पलटकर नहीं देखा।सलमान के जन्मदिन के मौके पर dainikbhaskar.com ने बात की दाई मां के परिवार से...


गोल-मटोल थे नन्हें सलमान

- सलमान का जन्म इंदौर के कल्याणमल नर्सिंग होम में हुआ था। उनके पिता सलीम का पैतृक घर इस अस्पताल से कुछ ही कदम की दूरी है। अब सलीम के बड़े भाई बटवा मियां के बेटे यहां रहते हैं। सलमान का पैतृक घर अब पांच मंजिला मल्टी का रूप ले चुका है।

- सलमान के जन्म के समय की बात को याद कर दाई मां रुक्मणि भाटी बताती हैं कि जन्म के समय सलमान का वजन 4 किलो के आसपास था। वे एकदम गोल-मटोल और गोरे चिट्टे थे। उनके जन्म के बाद बारह दिनों तक अम्मी सलमा और सलमान अस्पताल में ही रहे थे। तब सलमान को नहलाने और मालिश करने का जिम्मा दाई होने के नाते रुक्मणि का था।
- वे बताती हैं कि सलमान की मालिश के लिए उनके ताऊ बटवा मियां ख़ासतौर पर सियागंज से तिल्ली का तेल लाए थे। उनकी हिदायत पर मैं रोज कम से कम एक घंटे तक सलमान की मालिश करती थी।

उस ज़माने में मिला था सौ रुपए का इनाम
- रुक्मणि बताती हैं कि घर के लोग उनकी अम्मा को 26 तारीख को अस्पताल लेकर आए थे और 27 की सुबह 10-11 बजे के आसपास सलमान का जन्म हुआ था। जब मैंने सलीम साहब को सलमान के जन्म की खबर दी तो उन्होंने खुश होकर 100 रुपए का नोट दिया था। उस ज़माने में ये बहुत बड़ी रकम थी।

वादा किया पर निभाया नहीं
- दाई के बेटे राजेश भाटी ने बताया कि अपनी एक फिल्म के प्रमोशन के लिए सलमान करीब 4 साल पहले इंदौर आए थे। तब उन्होंने मेरी मां को मिलने के लिए खासतौर पर होटल बुलाया था। तब मेरी बेटी दादी को लेकर सलमान से मिलने गई थी। यहां मंच पर जैसे ही मां सलमान के पैर छूने झुकी तो वे चौंक गए थे। उन्होंने तत्काल मां को उठाकर अपने गले लगा लिया था। इसके बाद होटल के कमरे में सलमान ने काफी देर तक दाई और मेरी बेटी से बात की थी। उन्होंने मेरी बेटी के बारे में मां से जानकारी ली थी और कहा था कि दाई मां अब आपकी पोती मेरी जिम्मेदारी है। मैं इसकी पढ़ाई से लेकर शादी तक का इंतजाम करूंगा। काफी देर बात के बाद मां जब वापस आने लगी तो उन्होंने कुछ रुपए भी मां मेरी बेटी को दिए थे। राजेश कहते हैं कि मेरी बेटी और मां को आज भी उनके संदेशे का इंतजार है। दुख इस बात का है कि वे वादा कर हमें भूल गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दाठमाठà¤à¥ पà¥à¤° à¤à¥&agrav
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Indore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×