--Advertisement--

महिलाााा

महिलाााा

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 02:44 PM IST
बस हादसे की जानकारी लगते ही अस बस हादसे की जानकारी लगते ही अस

इंदौर। इंदौर-भोपाल हाईवे पर शुक्रवार शाम स्कूल बस और ट्रक में भीषण टक्टर में 4 बच्चों की मौत हो गई। वहीं हादसे के कुछ देर बाद ड्राइवर ने भी दम तोड़ दिया। हादसे की जानकारी लगते ही दौड़ते हुए अस्पताल पहुंचे परिजनों का कहना था कि उन्हें स्कूल द्वारा हादसे की जानकारी नहीं दी गई थी। बेहाल परिजन अस्पताल में अपने बच्चों के बारे में जानकारी लेते रहे।

राेते हुए पहुंचे अस्पताल, बोले कैसा है मेरा बच्चा

- हादसे की जानकारी लगते ही परिजन दौड़ते हुए अस्पताल पहुंचे। कुछ परिजनों के आंखों से लगातार आंसू बह रहे थे और उनकी आंखें अपने बच्चे को देखने के लिए व्याकुल थीं। अस्पताल परिसर में अफरा-तफरी का माहौल था। हर तरफ चीख पुकार मची हुई थी। कुछ बच्चे भी अस्पताल में अपने बहन-भाई को देखने पहुंचे। परिजनों ने रोते हुए कहा कि हम तो अपने बच्चों के स्कूल से आने का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान पता चला कि बस का एक्सीडेंट हो गया है।

ऐसे हुअा हादसा

- डीपीएस की बस शाम को छुट्‌टी के बाद बच्चों को छोड़ने उनके घर जा रही थी। पुलिस के अनुसाार बस भोपाल से महू की ओर जा रही थी, जबकि ट्रक महू से भोपाल की ओर जा रहा था। इस दौरान बिचौली मर्दाना बायपास पर ब्रिज के पास अचानक बस के ब्रेक फेल हो गए और वह डिवाइडर से टकराकर दूसरी ओर ट्रक से जा भिड़ी। बताया जा रहा है कि बस के स्पीड में होने के कारण हादसा इतना भीषण हो गया। टक्कर के बाद का नजारा कंपाने वाला था। बस का अगला हिस्सा बिखर गया था और ड्राइवर सीट पर ही चिप गया था। वहीं बस के भीतर का नजारा देख लोग कांप गए। बच्चे एक दूसरे के ऊपर गिरे हुए थे और दर्द से कराह रहे थे। चीख पुकार के बीच लोगों ने बच्चों को बाहर निकालने की कोशिश की और अस्पताल लेकर भागे।

सीएम ने ट्वीट कर जतााया दुख
- सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने लिखा है कि इंदौर में हुई सड़क दुर्घटना में स्कूली बच्चों के निधन का समाचार हृदय विदारक है। मन अत्यधिक पीड़ा से भरा है। ईश्वर से मासूम बच्चों की आत्मा को अपने चरणों में स्थान देने की प्रार्थना करता हूूं। विनम्र श्रद्धांजलि... इंदौर में सड़क दुर्घटना में हताहत हुए मासूम बच्चों की आत्मा की शांति और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। दु:ख की इस घड़ी में परिवार स्वयं को अकेला न समझे, मैं और प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता साथ है।

X
बस हादसे की जानकारी लगते ही असबस हादसे की जानकारी लगते ही अस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..