--Advertisement--

इस दबंग अधिकारी के नाम से घबराते हैं क्रिमिनल, ऐसा है इनके काम करने का तरीका

इस दबंग अधिकारी के नाम से घबराते हैं क्रिमिनल, ऐसा है इनके काम करने का तरीका

Dainik Bhaskar

Dec 27, 2017, 06:29 PM IST
दंबग पुलिस अधिकारी के रूप में दंबग पुलिस अधिकारी के रूप में

इंदौर। झाबुआ जिले की 28 साल की युवा सब इंस्पेक्टर श्रद्धासिंह परिहार को सारंगी पुलिस चौकी का प्रभारी बनाया गया है। अपनी दबंग कार्यप्रणाली के लिए जानी जाने वालीं परिहार के थाना क्षेत्र में 80 गांव हैं और करीब 40 हजार आबादी। जिस जगह पर उन्हें भेजा गया है वह काफी क्राइम वाला क्षेत्र है। परिहार के नाम से क्रिमिनल घबराते हैं। बुधवार को परिहार ने कार्यभार ग्रहण कर लिया।

- एसपी महेशचंद जैन के अनुसार सब इंस्पेक्टर श्रद्धा बहुत ही काबिल पुलिस अधिकारी हैं। उनकी कार्य प्रणाली को देखते हुए उन्हें सारंगी चौकी की जिम्मेदारी दी गई है। इससे पहले वे झाबुआ कोतवाली में

पदस्थ थीं। पदभार ग्रहण करने के बाद चौकी प्रभारी श्रद्धासिंह ने बताया सबसे पहले करवड़ क्षेत्र में जो चोरी की घटनाएं हुई हैं, उन्हें ट्रेस करना उनका पहला टास्क है।
- सब इंस्पेक्टर श्रद्धासिंह मानवीय दृष्टिकोण के साथ पुलिसिंग करती हैं। झाबुआ में जब एक बच्ची नाले में पड़ी मिली थी तो वे न केवल उसे उठाकर अस्पताल ले गईं, बल्कि डॉक्टरों से बच्ची का बेहतर से बेहतर उपचार करने को कहा। इसके अलावा एक अगवा किशोरी को ढूंढकर लाने के साथ आरोपी को गिरफ्तार करने में भी उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। इसके लिए एसपी महेशचंद जैन ने 500 रुपए का नकद पुरस्कार दिया था।

80 गांव और 40 हजार की आबादी
- सारंगी चौकी से 80 गांव जुड़े हैं और यहां की आबादी करीब 40 हजार है। क्षेत्र में चोरी की वारदातें बहुत ज्यादा होती हैं। लिहाजा उनके लिए इस तरह की वारदातों पर लगाम लगाने के साथ अपराधियों की धरपकड़ करना सबसे बड़ी चुनौती होगी। इस चौकी क्षेत्र के बड़े कस्बों में करवड़, घुघरी, भाबरापाड़ा, कसारबर्डी, उंडवा, बोड़ायता, कालीघाटी आदि शामिल हैं।

X
दंबग पुलिस अधिकारी के रूप में दंबग पुलिस अधिकारी के रूप में
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..