--Advertisement--

युवक को पट रहा था भाई, लड़की ने आ के कहा कुछ ऐसा छोड़कर भाग निकला

युवक को पट रहा था भाई, लड़की ने आ के कहा कुछ ऐसा छोड़कर भाग निकला

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 11:59 AM IST
रतलाम आईआईटी में छात्रा के साथ रतलाम आईआईटी में छात्रा के साथ

इंदौर। रतलाम आईटीआई में छात्रा को लेकर आए युवक ने अतिथि शिक्षक के साथ मारपीट की। लड़की ने जैसे ही कहा ये तो हमारे सर हैं....।' इसके बाद युवक गलियारे से बाहर आ गया। घटना के बाद छात्र और अन्य शिक्षक भी आ गए। अन्य शिक्षकों ने पूछताछ की तो युवक को गलती का अहसास हुआ और फिर छात्रा को लेकर बाइक से चला गया। आरोपी युवक के आईटीआई में घुसने और मारपीट के बाद छात्रा को लेकर चले जाने तक पूरा घटनाक्रम पौने दो मिनट में घट गया।

- पिपलियामंडी (मंदसौर) निवासी शिक्षक शंकरलाल पिता रामविलास पाटीदार ने बताया वे आईटीआई में इलेक्ट्रीशियन ट्रेड के अतिथि शिक्षक हैं। पढ़ाने के लिए सुबह आईटीआई पहुंचे। गलियारे से होते हुए क्लास की तरफ जा रहे थे तभी इलेक्ट्रीशियन जूनियर की छात्रा के साथ आए गांधी नगर निवासी उमंग पिता दौलतराम खरे ने गाली-गलौज कर मारपीट की। तभी छात्रा ने कहा '... ये तो हमारे सर हैं।' इसके बाद पाटीदार को छोड़कर उमंग गलियारे से बाहर परिसर में चला गया।


- मारपीट में शिक्षक पाटीदार को बायीं आंख के ऊपर और गर्दन पर चोट आई और चश्मा टूट गया। झगड़े का शोर सुनकर आईटीआई के छात्र और शिक्षक भी आ गए। शिक्षक कमलेश परमार व गुलाब राव ने पूछताछ की तो आरोपी उमंग छात्रा को बाइक से ले गया। औद्योगिक क्षेत्र थाने में आरोपी उमंग के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, शासकीय कर्मचारी से मारपीट व नुकसानी की धारा में केस दर्ज किया।

छात्रा ने की एसपी से शिकायत
- उधर, छात्रा ने आईटीआई के अन्य छात्र और फरियादी शिक्षक पर छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए एसपी से शिकायत की। शिकायत में छात्रा ने बताया वह मंदसौर निवासी है और रतलाम में मौसी के यहां रहकर आईटीआई कर रही है। आईटीआई इलेक्ट्रिक विभाग का छात्र हरि रोज अभद्र भाषा का प्रयोग कर परेशान कर रहा था जिसकी शिकायत कक्षा अध्यापक शंकरलाल पाटीदार से की। शिकायत पर कार्रवाई करने के बजाय शिक्षक ने भी बुरी नजर से देखना शुरू कर दिया। सुबह मौसी को परेशानी के बारे में बता रही थी। यह बात मौसेरे भाई उमंग ने सुन ली और बाइक पर लेकर आईटीआई आया और शिक्षक से मारपीट की। मैंने छुड़ाने की कोशिश की। इसके बाद शिकायत के लिए औद्योगिक क्षेत्र थाने पहुंची। थाने पर सुनवाई नहीं हुई इसलिए एसपी ऑफिस आकर शिकायत की।

छात्रा ने पूर्व में कोई शिकायत नहीं की
- प्राचार्य यूपी अहिरवार ने बताया छात्रा को शिकायत थी तो बताना चाहिए था। उसने पूर्व में कोई शिकायत नहीं की। मामला छात्र व छात्रा का है। जल्दबाजी में निर्णय से भविष्य बिगड़ने की आशंका रहती है। गंभीरता से जांच कर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। शिक्षक पाटीदार ने बताया छात्रा ने उनसे किसी छात्र की शिकायत नहीं की। शिकायत में उसने मेरा नाम क्यों लिखाया पता नहीं।

X
रतलाम आईआईटी में छात्रा के साथरतलाम आईआईटी में छात्रा के साथ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..