--Advertisement--

विकाी

विकाी

Dainik Bhaskar

Jan 08, 2018, 04:11 PM IST
आईटी सेकंड ईयर के छात्र अनमोल आईटी सेकंड ईयर के छात्र अनमोल

इंदौर। सर, मेरा एक Laptop चोरी हो गया है। चोरी गए Laptop को मैंने प्रयास कर ट्रेस कर लिया है, इतना ही नहीं वह लेपटॉप अब ओएल एक्स साइट पर बिकने को भी आ गया है। इस साइट के माध्यम से मैं आरोपी से लगातार चेटिंग भी कर रहा हूं, लेकिन उसने Laptop बेचने के साथ उसका कोई नंबर नहीं दिया है। सिर्फ आप इतनी मदद करवा दीजिएगा कि ओएल एक्स साइट से जानकारी निकालकर उसे ट्रेस कर लें ताकि चोर पकड़ा जा सके। ये बात बुधवार को आईटी सेकंड इयर के 19 वर्षीय छात्र अनमोल पिता ओंकार चौबे निवासी गणराज नगर (मयूर हॉस्पिटल के पास) ने कही।

- अनमोल ने बताया कि वह एक निजी कॉलेज से आईटी की पढ़ाई कर रहा है। 31 दिसंबर को वह घर में अपने Laptop (एचपी पवेलियन एयू 620-टीएक्स) पर अपना प्रोजेक्ट बना रहा था, कुछ देर के लिए मैं Laptop छोड़कर घर के दूसरे कमरे में गया। तभी सुबह सात बजे पिता घर से निकले और मां उन्हें कुछ समान देने के लिए दरवाजा खोलकर बाहर चली गई थी। इसी दौरान कोई टेबल पर रखा मेरा Laptop चुरा ले गया। इसकी कीमत 58 हजार रुपए है।

- छात्र अनमोल ने बताया कि घटना के बाद काफी तलाशने पर जब Laptop नहीं मिला तो मैंने खुद उसे ट्रेस करना शुरु किया। पहले पुलिस को शिकायत की लेकिन थाना पुलिस ने सायबर का मामला बताकर सायबर सेल भेजा। सायबर सेल पहुंचा तो वहां से मुझे थाने में शिकायत के लिए कहा। परेशान होकर मैंने खुद ट्रेसिंग शुरू की।

ऐसे किया ट्रेस, 4 दिन बाद ओएल एक्स साइट पर बिकने लग
- छात्र अनमोल ने बताया जब Laptop चोरी हुआ था, तब उसमें मेरा जी-मेल अकाउंट खुला था। वही मेल अकाउंट Laptop पर भी था।

- मैंने मोबाइल पर ही गुगल सर्च कर डैश बोर्ड ऑप्शन खोला और माय एक्टिविटी ऑप्शन में जाकर फाइंड माय डिवाइस पर जाकर कनेक्ट किया।

- इस पर मेरा मोबाइल और Laptop दोनों मेरे जी-मेल अकाउंट्स से कनेक्ट हो गया। इस पर मैंने एंड्राइड से उसकी लोकेशन ट्रेस की।

- मुझे 2.46 मिनट पर Laptop की लोकेशन 66 तिलकपथ पर होना मिली। लेपटॉप बैग में मेरे Laptop का बिल गाड़ी के कागज व 3 पेन ड्राइव थीं।

- जब में तिलक पथ के उक्त पते पर पहुंचा तब तक मेरे Laptop को चोर रिसेट कर चुका था। उसके बाद मुझे लोकेशन नहीं मिली।

- मैंने अंदाजा लगाया कि उसमें Laptop का बिल है, इसलिए उसे चुराने वाला उसे जरूर बेचेगा। इस पर मैं सिल्वर माल में कुछ पुराने दुकानदारों से संपर्क।

- इसके अलावा नाॅवल्टी मार्केट में भी दोस्तों को Laptop की जानकारी दी। यही नहीं ओएल एक्स व अन्य साइड पर भी मैं सर्च करने लगा।

- 5 जनवरी को मुझे ओएल एक्स पर मेरा ही Laptop 50 हजार में बिकने का एक विज्ञापन दिखा। विज्ञापन देने वाले ने जब मेरे Laptop का फोटो डाला तो मैं उसे पहचान गया।

- उसने अपना एड्रेस और मोबाइल नंबर विज्ञापन में नहीं डाला, चूंकि मेरा बिल बैग में था। यदि में मोबाइल के मेल से उससे चेटिंग करता तो वह समझ जाता।

- मैंने अपने दोस्तों के आईडी से उससे संपर्क किया, उससे चेटिंग में पूछा ये Laptop कब खरीदा। इस पर उसने चेटिंग में जवाब दिया जुलाई में, लेकिन वह सही दिनांक और दुकान का पता नहीं बता पाया।

- इससे और शक पुख्ता हो गया। वह बिल सहित Laptop बेचने का विज्ञापन दे रहा है तो उसकी जानकारी से क्यों बच रहा है।

- डीआईजी से शिकायत में अनमोल ने कहा कि पुलिस ओएल एक्स से जानकारी लेकर चोर को ट्रेस कर ले और मुझे मेरा Laptop दिलवा दे।

- ओएल एक्स पर जानकारी उसे ज्यादा नहीं मिल रही इसलिए उसकी पड़ताल भी रुक गई है।

क्राइम ब्रांच को सौंपी है जांच
- छात्र अनमोल ने लेपटॉप चोरी की शिकायत की है। उसने काफी हद तक खुद लेपटॉप की ट्रेसिंग कर ली है। मामले में जांच क्राइम ब्रांच को दी है वह ओएल एक्स साइट से संपर्क कर लेपटॉप बेचने वाले का पता लगाएगी। - हरिनारायणचारी मिश्र, डीआईजी

X
आईटी सेकंड ईयर के छात्र अनमोल आईटी सेकंड ईयर के छात्र अनमोल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..