--Advertisement--

गैंगरेप पीड़िता ने बताई उस रात की पूरी कहानी, हैवान से कम नहीं वो नाबालिग लड़का

गैंगरेप पीड़िता ने बताई उस रात की पूरी कहानी, हैवान से कम नहीं वो नाबालिग लड़का

Dainik Bhaskar

Dec 19, 2017, 11:51 AM IST
मध्य प्रदेश के नागदा का मामला- मध्य प्रदेश के नागदा का मामला-

इंदौर। नागदा के दयानंद कॉलोनी में शनिवार रात 18 वर्षीय लड़की के साथ गैंगरेप करने वाले दोनों आरोपियों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। न्यायालय ने आरोपी प्रवीण को पांच दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। वहीं मामले में शामिल नाबालिग को बाल सुधार गृह उज्जैन भेजा है। मंडी टीआई अजय वर्मा ने बताया दोनों आरोपियों का डीएनए टेस्ट कराकर सैंपल जांच के लिए भेजा है।


 
नाबालिग क्रूर प्रवृत्ति का...
- टीआई वर्मा के अनुसार गैंगरेप की घटना में शामिल किशोर की उम्र 15 साल 9 महीने है। वो आदतन अपराधी है। लड़की के बयान में यह पता चला उसके साथ सबसे ज्यादा हैवानियत नाबालिग आरोपी ने ही की है। नाबालिग पर पहले से भी अपराध दर्ज हैं। पुलिस सीजेएम कोर्ट में आवेदन कर नाबालिग के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की दरख्वास्त करेगी। 
 
लड़की बोली, हैवानों की तरह थी नाबालिग की हरकत...
- मैं गारमेंट्स दुकान पर सेल्सगर्ल का काम करती हूं... रोज की तरह रात 9 बजे मैं पैदल घर लौट रही थीं। मुख्य मार्ग महिदपुर रोड के पीछे दयानंद कॉलोनी के रास्ते में जैसे ही जन्मेजय स्कूल चौराहे के आगे पहुंची एक किशोर एक युवक पीछे से आए और मुझे दबोच लिया। नाबालिग ने मेरा मुंह दबाया और लगभग 15 कदम दूर एक सुनसान गली में ले जाकर मुझे जोर से पटक दिया। मैंने शोर मचाया और दोनों को लात भी मारी, लेकिन मैं उनकी पकड़ से छूट नहीं पाई। नाबालिग ने मुझे पीटना शुरू किया बाद में दोनों ने मुझे बुरी तरह पीटा। नाबालिग ने मेरे गालों को काटा और आंख के पास भी चोट पहुंचाई।


- पीड़िता ने बताया सूनसान गली में एक घर के रोशनदान से हल्की रोशनी रही थी। इस रोशनी में एक आरोपी उसे जाना पहचाना लगा। बाद में दिमाग पर जोर दिया तो पता चला कि उसके साथ गंदा काम करने वाला एक नाबालिग किशोर है, जो उसके चचेरे भाई के साथ कैटरिंग का काम करता है। बचाव में मैंने नाबालिग के बाल पकड़े। इस दौरान मैंने किशोर के होंठ पर काट लिया। गुस्से में किशोर ने मुझे भी गाल और होंठों पर बेरहमी से काटा। इस दौरान दोनों हैवानों ने मेरे साथ मारपीट भी की। इससे मेरी आंख के नीचे भी चोट लगी। मेरे साथ जबरदस्ती करने के दौरान किशोर ने अपने साथी को प्रवीण नाम से पुकार रहा था। प्रवीण ने भी मेरे साथ जबरदस्ती करने के दौरान मुझे बहुत मारा। पीड़िता के बयान में किशोर के होंठ पर ताजा चोट के निशान से ही पुलिस ने रात 9 बजे हुई घटना के आरोपियों को रात 3 बजे पकड़ लिया।

 

कई दिन से थे ताक में...
- पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया वे कैटरिंग का काम करते हैं। उनके साथ लड़की का चचेरा भाई भी काम करता है। उसके माध्यम से वे उसे जानते थे। दो-तीन दिन से पीड़िता पर नजर रख उन्होंने उसके आने-जाने का समय, रास्ता पता कर लिया। इसके बाद शनिवार रात वारदात को अंजाम दिया।
 
हिम्मत सिंह की फेसबुक आईडी से आरोपियों तक पहुंची पुलिस
- पीड़िता ने पुलिस को बताया एक आरोपी के होंठ पर उसने काटा था और दूसरा काला शर्ट पहने था। बयान में पीड़िता ने आरोपियों के मुंह से किसी हिम्मतसिंह का नाम भी सुना था। इसी हिम्मतसिंह की फेसबुक आईडी को पुलिस ने खंगाला तो किशोर की फ्रेंड लिस्ट में मिला। इसके बाद रात में एसआई अविनाश राठाैड़, एसआई सुरेश कलेश सहित चीता पार्टी के जवानों ने पहले नाबालिग के नाम के तीन-चार युवकों को हिरासत में लिया और पीड़िता से शिनाख्त कराई। पीड़िता ने बताया उसे आरोपियों का चेहरा ठीक से पता नहीं, मगर बचाव में उसने एक के होंठ पर काटा था। उसके चेहरे पर चोट के निशान उसके अपराध की पोल खोल देंगे। पकड़े गए संदिग्ध में से एक किशोर के होंठ पर ताजा जख्म मिला। पुलिस ने किशोर से सख्ती से पूछताछ की तो उसने जुर्म कबूल कर बताया कि उसके साथ एक और साथी उसका दोस्त प्रवीण था। पुलिस ने प्रवीण को उसके घर से गिरफ्तार किया।

 

पुलिस को बताया तो जान से मार देंगे
- पीड़िता ने पुलिस को बताया दुष्कर्म के बाद आरोपी मुझे गंदी गली में छोड़कर भाग गए। जाते-जाते दोनों ने मुझे धमकाया कि यह बात किसी को बताई तो जान से खत्म कर देंगे। घटना के बाद जैसे तैसे में घर पहुंची और परिजनों को बताया। इसके बाद मंडी थाने पहुंचकर घटना की जानकारी दी। पुलिस ने आरोपियों पर धारा 363, 376, 376 (छ), 506 में केस दर्ज किया है। 

X
मध्य प्रदेश के नागदा का मामला- मध्य प्रदेश के नागदा का मामला-
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..