Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News »News» Valentine Day Special, Love Story Of Vinod And Aarti Khandwa Mp

ट्रेन में 10 मिनट बात और लड़के ने कर दिया प्रपोज, लड़की ने दिया ये जवाब

अतुल दुबे | Last Modified - Feb 15, 2018, 10:33 AM IST

13 साल पहले भुसावल से लौटते हुए युवक व युवती की ट्रेन में हुई थी मुलाकात, 10 मिनट बात।
  • ट्रेन में 10 मिनट बात और लड़के ने कर दिया प्रपोज, लड़की ने दिया ये जवाब
    +2और स्लाइड देखें
    खंड़वा के विनोद की मुलाकात आरती से 13 साल पहले ट्रेन में हुई थी।

    इंदौर/खंडवा। कहते हैं कलाकार कोई भी हो, कहानी दमदार होनी चाहिए। कुछ ऐसी ही है खंडवा के विनोद और आरती शर्मा की प्रेम कहानी, जो इमोशन से भरी हुई है। इनकी कहानी शुरू होती है ट्रेन के दो घंटे के सफर से। लेडीज बोगी में संतों की तरह दिख रही युवती से युवक ने बातचीत शुरू की। वह बेहद निराश लगी। 10 मिनट बातचीत हुई, सिलसिला आगे बढ़ा। बात शादी तक पहुंच गई। तभी खंडवा स्टेशन आ गया। युवक ट्रेन के गेट पर खड़ा हुआ और बोला शादी के लिए तैयार हो तो नीचे उतर जाओ। युवती ने कहा मेरा बैग उठाआेगे तो नीचे उतरूंगी न। चलती ट्रेन में सिर्फ 10 मिनट की बातचीत से शुरू हुए इन दोनों किरदारों के सफर को अब पूरे 13 साल हो गए हैं। रियल लाइफ की यह कहानी किरदारों की जुबानी..


    मेरी सूरत देखी है... मेरे जैसे से कौन शादी करेगा
    - विनोद शर्मा ने बताया मैं 25 जुलाई 2005 को भुसावल गया था। शाम को सचखंड एक्सप्रेस से लौट रहा था। महिला कोच में चढ़ गया ताकि आराम से जा सकूं। अंदर गया तो आरती व एक अन्य महिलाएं बैठी हुईं थी। मुझे बाहर जाने को कहा। मैंने आग्रह किया कहा अगले स्टेशन पर उतर जाऊंगा। ट्रेन आगे बढ़ी। आरती के सिर के बाल संतों के सिर के बालों की तरह छोटे-छोटे थे। 'एक बनो नेक बनो पुस्तक पढ़ रही थी'। 17-18 की उम्र में इस तरह की पुस्तक पढ़ने के कारण मेरी जिज्ञासा बढ़ी। बातचीत शुरू की।


    - आरती ने बताया नासिक सटाणा के गांव जखोड़ की रहने वाली है। गुरुजी के मानव केंद्र चंडीगढ़ में दीक्षा ली इसके बाद वापस घर आई थी। जखोड़ में परिवार में उसे असहज लगा। वे बात-बात में एतराज करने लगे। इस कारण घर छोड़कर गुरुजी के मानव केंद्र चंडीगढ़ के लिए जा रही थी। मुझे लगा वह निराश है। मैंने उसे उत्साहित करने के लिए शादी की चर्चा शुरू की। जवाब में आरती ने कहा मेरी सूरत देखी है मेरे जैसे से कौन शादी करेगा। मैंने कहा मैं तैयार हूं। तुम तैयार हो तो 10 मिनट बाद खंडवा स्टेशन आ रहा। मेरे साथ उतर जाना। जवाब में आरती ने केवल हंस दिया।


    - ठीक 10 मिनट बाद खंडवा स्टेशन आया। मैं उतर गया। आरती ने खिड़की पर आकर कहा- मेरा बैग नहीं उठाओगे तो उतरूंगी कैसे। इतना सुनते ही मैंने आरती का बैग उठाया और घर आ गए। अगले ही दिन मुहूर्त नहीं होने के बावजूद कुंडलेश्वर मंदिर में शिव मंदिर में शादी की। आरती शर्मा ने बताया विनोद का मिलना, मेरी भावनाओं को समझना, शादी का प्रस्ताव देना अच्छा लगा। दोनों के दो बच्चे के साथ पुरानी अनाज मंडी क्षेत्र में रहते हैं।

    (फोटो -नवनीत)

  • ट्रेन में 10 मिनट बात और लड़के ने कर दिया प्रपोज, लड़की ने दिया ये जवाब
    +2और स्लाइड देखें
    13 साल पहले शुरू हुई ये प्रेम कहानी अब भी जारी है।
  • ट्रेन में 10 मिनट बात और लड़के ने कर दिया प्रपोज, लड़की ने दिया ये जवाब
    +2और स्लाइड देखें
    अपने दाेनों बच्चों के साथ विनोद और आरती।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Valentine Day Special, Love Story Of Vinod And Aarti Khandwa Mp
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×