Hindi News »Madhya Pradesh News »Indore News» Lover Kidnapper Cousin Brother Of Gf After Her Marriage Indore

हाथ पैर बांध कार की पिछली सीट पर पटका, रातभर दौड़ाई कार फिर, सामने आई ये स्टोरी

हाथ पैर बांध कार की पिछली सीट पर पटका, रातभर दौड़ाई कार फिर, सामने आई ये स्टोरी

Rajeev Tiwari | Last Modified - Nov 13, 2017, 05:19 PM IST

इंदौर। प्रेमिका के घरवालों ने उसकी शादी कहीं और कर दी तो गुस्साए प्रेमी ने प्रेमिका को पाने के लिए पांच दोस्तों के साथ मिलकर उसके मौसेरे भाई का अपहरण कर लिया। पांचों ने युवक को कार की पिछली सीट पर पटका दिया। वो शराब पीकर कार दौडाते रहे और उसे पीटते रहे। बाद में प्रेमिका के परिजनों को फोन लगाकर बोला अपना लड़का चाहते हो तो अपनी लड़की दे जाओ, नहीं तो इसे मार डालेंगे। रात भर कार में घुमाने के बाद पुलिस के डर से किडनैपर्स उसे छोड़कर भाग गए, पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।
- शनिवार रात को सपना-संगीता स्थित एक फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी आनंद पिता दयाराम साहू का अपहरण हो गया था। परिजनों ने पुलिस को रिपोर्ट लिखाई तब से पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी।इसी बीच रविवार को उसके पिता के पास आशीष साहू नामक युवक का कॉल आया। उसने कहा कि आनंद का अपहरण उसने ही किया है।यदि तुम आनंद को ज़िंदा देखना चाहते हो तो उसकी मौसी की बेटी पिंकी को लेकर आ जाओ, नहीं तो उसको मार देंगे।
- पुलिस ने मामले की पड़ताल की तो पता चला कि आशीष जिस पिंकी को लाने को कह रहा था वह उसकी प्रेमिका थी। साल भर पहले वह उसे भगाकर ले गया था दोनों 6 महीने तक साथ में रहे थे फिर परिवारवाले लड़की को अपने साथ ले आए। कुछ समय पहले उन्होंने उसकी शादी कहीं और कर दी थी। अपनी प्रेमिका को वापस पाने के लिए आशीष ने उसके मौसेरे भाई का किडनैप कर लिया था।
- आशीष के फोन के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर लिया।पुलिस ने उसके मोबाइल की लोकेशन निकाली तो पता चला कि वह भोपाल के आस- पास था। इसके बाद पुलिस ने उसकी तलाश के साथ -साथ उसके परिजनों पर भी दबाव बनाना शुरू कर दिया।इससे घबराकर आशीष और उसके साथियों ने आनंद को पिपल्याहाना चौराहे पर उतारा और गाडी से भाग खड़े हुए। यहां से आनंद जैसे-तैसे घर पहुंचा और परिजनों को सारी कहानी सुनाई।
पिस्टल भी थी साथ में ...
- आनंद ने बताया आशीष सहित 5 लोग शनिवार शाम को मेरे ऑफिस आए थे कुछ काम की बात करते हुए इन्होने मुझे गाडी में बैठाया और भोपाल की तरफ चल दिए। इंदौर से बाहर निकलते ही पिस्टल दिखाकर हाथ पैर बांध दिए और कार की पिछली सीट पर पटक दिया। आशीष ने कहा कि हमने तेरा किडनैप कर लिया है अब हम जैसा बोलते है वैसा कर तेज चला तो गोली मार देंगे।
- आशीष और उसके साथी कार में शराब पीते रहे और मुझे मारते रहे। रातभर चलने के बाद ललितपुर में एक ढाबे पर कार रोकी और खाना दिया। फिर सुबह से लेकर शाम तक पापा को कॉल किए और पिंकी को लाने का बोलते रहे। उन्होंने पिता से बात भी करवाई और बोले कि बोल इन्होने मुझे चाकू मार दिए हैं यदि उसको नहीं लाए तो मुझे मार देंगे।

- मामले में टीआई दिलीप गंगाराडे ने कहा कि युवक का मेडिकल करवाया है। वहीं आरोपियों की तलाश की जा रही है। आशीष किसी कंपनी में रिकवरी का काम करता है। उसके बारे में और जानकारी निकाली जा रही है।
आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करके देखें फोटोज...


दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Indore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×