--Advertisement--

हम लिव इन रिलेशनशिप में नहीं थे प्रेम विवाह किया था, सबूत भी हैं

हम लिव इन रिलेशनशिप में नहीं थे प्रेम विवाह किया था, सबूत भी हैं

Danik Bhaskar | Dec 01, 2017, 11:43 AM IST
दूल्हे ने दिए कागजात। दूल्हे ने दिए कागजात।

इंदौर। उज्जैन महिला थाने में तीन दिन पहले जिस युवक के खिलाफ लिव इन रिलेशनशिप में रहते चार साल तक दुष्कर्म करने के आरोप में केस दर्ज हुआ था। वह खुद ही एसपी ऑफिस आ गया। उसने एसपी को आवेदन देते हुए बताया कि, वो लड़की के साथ लिव इन रिलेशनशिप में नहीं था, बल्कि तीन साल पहले दोस्तों की मौजूदगी में अग्नि को साक्षी मानकर प्रेम विवाह किया था। सबूत के तौर पर उसने शादी की तस्वीरें और स्टांप प्रभारी एसपी के सामने पेश किए।


- रामजी की गली के समीप रहने वाली युवती ने कुछ दिनों पहले महिला थाना पहुंचकर सखीपुरा के रहने वाले मोहित के खिलाफ चार साल तक बगैर शादी किए रखने और शादी का बोलने पर मारपीट कर घर से निकालने का आरोप लगाया था। युवती की शिकायत पर पुलिस ने युवक के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया था।

- केस होने की जानकारी लगने के बाद युवक खुद ही एसपी के सामने प्रस्तुत हो गया। उसने अपने आवेदन में लिखा है कि पत्नी के परिवार वाले शादी के खिलाफ थे। उन्होंने कई बार धमकी दी कि वे उसे वापस ले जाएंगे। पत्नी भी ससुराल वालों की बात में आकर शादी के बाद छोटी-छोटी बातों में विवाद करने लगी थी। घर के विवाद में ससुराल वालों के कहने पर पत्नी ने दुष्कर्म का केस दर्ज कराया। हमारी 2 साल की बेटी है।

- महिला थाना टीआई रेखा वर्मा ने बताया महिला तीन दिन पहले आई और मोहित की शिकायत की थी। इस पर मोहित को फोन कर थाने बुलाया था, लेकिन उसने आने से मना कर दिया। उससे पूछा गया कि महिला तुम्हारी कौन लगती है, तब भी उसने कहा कि कोई रिश्ता नहीं है और शादी नहीं की है। दो दिन इंतजार के बाद महिला और उसके परिवार की शिकायत पर केस दर्ज किया। केस दर्ज होने के बाद आरोपी अपने वकील के जरिए शादी के सबूत पेश कर रहा है। यह इस मामले में नया मोड़ है, जो सबूत मोहित ने पेश किए हैं, उन पर जांच के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। महिला के साथ चार लोग आए थे, जो गवाह के रूप में बोले कि शादी नहीं हुई।