लोकसभा चुनाव / खजराना में चोला चढ़ाने पर लालवानी के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का केस

Dainik Bhaskar

May 09, 2019, 10:02 AM IST



Case of violation of Code of Conduct on Lalwani on Chola in Khajran
X
Case of violation of Code of Conduct on Lalwani on Chola in Khajran

  • लालवानी बोले- ‘मेरी पूजा पर प्रकरण, 25 लाख का प्रलोभन देने वाले मंत्री पर कार्रवाई नहीं
  • इंदौर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हैं शंकर लालवानी, कांग्रेस के पंकज संघवी से है टक्कर

इंदौर. इंदौर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी शंकर लालवानी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। खजराना गणेश मंदिर में चोला चढ़ाने के मामले में उन पर आचार संहिता का उल्लंघन का आरोप सही साबित हुआ।

 

कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी लोकेश कुमार जाटव के आदेश पर बुधवार रात खजराना पुलिस ने उनके और मंदिर के पुजारी अशोक महाराज (भट्‌ट) के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली। भाजपा प्रत्याशी लालवानी ने इस पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि पूजा करने पर भी मप्र सरकार के दबाव में मुझ पर प्रकरण दर्ज हो जाता है, जबकि दूसरी ओर एक कैबिनेट मंत्री वोटरों को 25 लाख रुपए का प्रलोभन देते हैं, फिर भी कोई कार्रवाई नहीं होती। हालांकि मैं कानून का पूरा सम्मान करता हूं। प्रशासन ने इस मामले में लालवानी को नोटिस दिया था, जिसके जवाब में उन्होंने लिखा था कि मैं खजराना गणेश मंदिर प्रार्थना करने गया था, वहां किसी से वोट की अपील नहीं की।


उनके इस जवाब को संतोषजनक नहीं माना गया। खजराना थाने में नोडल अफसर की रिपोर्ट पर पुलिस ने धार्मिक संस्था दुरुपयोग निवारण अधिनियम में धारा 3/7 और 188 के तहत लालवानी और पुजारी पर केस दर्ज किया। धारा 3 में आचार संहिता उल्लंघन का और 7 में दंड का प्रावधान है। 188 प्रतिबंधात्मक धारा है। इस मामले में आरोप सिद्ध होने पर 10 हजार रुपए के अर्थदंड और सजा का प्रावधान है। इधर, लालवानी को प्रशासन ने बच्चों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा लगवाकर प्रचार करने के मामले में भी नोटिस जारी किया है।

 

पटवारी के जवाब का परीक्षण : कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी के समर्थन में जीतू पटवारी के वोट देने पर 25 लाख का जिम का सामान देने के मामले में उन्होंने जवाब पेश कर दिया है। जवाब में उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वचन पत्र में कही बात को ही मैंने दोहराया है। उनके इस जवाब का परीक्षण चल रहा है।

COMMENT