• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Indore News
  • News
  • Indore - बच्चे फल खा सकें, इसलिए इंदौर जिले के चारों उत्कृष्ट स्कूलों में लगाएंगे आम, जाम, जामुन के 2000 पौधे
--Advertisement--

बच्चे फल खा सकें, इसलिए इंदौर जिले के चारों उत्कृष्ट स्कूलों में लगाएंगे आम, जाम, जामुन के 2000 पौधे

एक स्कूल में लगेंगे 500 पौधे, बाल विनय मंदिर स्कूल से होगी शुरुआत भास्कर संवाददाता| इंदाैर सरकारी स्कूल के बच्चे...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 03:37 AM IST
एक स्कूल में लगेंगे 500 पौधे, बाल विनय मंदिर स्कूल से होगी शुरुआत

भास्कर संवाददाता| इंदाैर

सरकारी स्कूल के बच्चे अब पढ़ाई के साथ स्वादिष्ट फलों का लुत्फ भी उठा सकेंगे। इसके लिए अब स्कूल परिसर में आम, जाम, जामुन और अन्य फलों के पौधे लगाए जाएंगे। छात्र हित में यह सकारात्मक पहल जिला पंचायत सीईओ नेहा मीणा ने की है। उन्होंने इसके लिए इंदौर जिले के चार शासकीय उत्कृष्ट स्कूलों का चयन किया है। इनमें अलग-अलग किस्म के 2000 पौधे लगाए जाएंगे। इसकी शुरुआत शहर के बाल विनय मंदिर में 500 पेड़ लगाने के साथ होगी। यहां जगह का चयन कर लिया गया है। संभवत: इसी सप्ताह पौधे लगा दिए जाएंगे।

जिला पंचायत सीईओ नेहा मीणा ने बताया कि इंदौर, महू, देपालपुर और सांवेर ब्लॉक के उत्कृष्ट स्कूलों में आम, जाम, जामुन, सीताफल, चीकू, अनार, इमली और फालसा आदि के पौधे लगाए जाएंगे, ताकि भविष्य में छात्र इनसे फल तोड़कर खा सकें। इससे स्कूल परिसर में हरियाली बढ़ेगी। इसके लिए तीन से पांच साल बड़े पौधों का चुनाव किया जाएगा, ताकि वे आसानी से उग सकें। हर स्कूल में 500 पौधे लगाने का लक्ष्य है।

पेड़ों की छांव में गुरुकुल की तर्ज पर पढ़ाई कर सकेंगे बच्चे

शासकीय उत्कृष्ट बाल विनय मंदिर की प्राचार्या विजया शर्मा ने बताया कि तीन दिन पहले जिला पंचायत के कार्यालय से कुछ अधिकारी स्कूल में पौधे लगाने के लिए जगह देखकर गए हैं। पौधे लगने के बाद भविष्य में बच्चे इनकी छांव में बैठकर पढ़ाई भी कर सकते हैं। यह कुछ गुरुकुल की तर्ज पर होगा। ऐसा प्रयोग मल्हार आश्रम स्कूल में किया जा चुका है। पेड़ के नीचे बच्चे न केवल जल्दी सीख पाए, बल्कि उन्हें पढ़ाया गया पाठ जल्दी कंठस्थ हो गया।