• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Collector’s order, onion and garlic will be available to residents in wholesale price in Mandi

राहत की कोशिश / कलेक्टर का आदेश- मंडी में थोक भाव में मिलेगा शहरवासियों को प्याज और लहसुन

प्याज के भाव में लगातार तेजी को देखते हुए प्रशासन ने राहत दिलाने की तैयारी की है। प्याज के भाव में लगातार तेजी को देखते हुए प्रशासन ने राहत दिलाने की तैयारी की है।
X
प्याज के भाव में लगातार तेजी को देखते हुए प्रशासन ने राहत दिलाने की तैयारी की है।प्याज के भाव में लगातार तेजी को देखते हुए प्रशासन ने राहत दिलाने की तैयारी की है।

  • प्याज के थोक भाव 78 रुपए, जबकि फुटकर 90 रु. किलो बिक कर रहा
  • मंडी में व्यापारी जिस थोक रेट में प्याज खरीदेंगे, उसी रेट में ग्राहक को बेचेंगे

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 11:34 AM IST

रतलाम. महंगा प्याज खरीद रहे शहरवासियों को कलेक्टर के एक आदेश से थोड़ी राहत मिलेगी। आदेश के बाद मंगलवार से प्याज एवं लहसुन मंडी में थोक भाव पर मिलेगा। यहां शहवासियों को दो किलो दिए जाएंगे। प्याज के थोक में भाव 78 रुपए प्रतिकिलो तक पहुंच गए हैं, जबकि फुटकर में यह 90 रुपए प्रतिकिलो बिक कर रहा है।

भाव में लगातार तेजी को देखते हुए कलेक्टर रूचिका चौहान ने थोक भाव में शहरवासियों को प्याज बेचने के आदेश जारी दिए हैं। इसकी जिम्मेदारी मंडी और उद्यानिकी विभाग को सौंपी है। मंडी में व्यापारी जिस थोक रेट में प्याज खरीदेंगे उसी रेट में ग्राहक को बेचेंगे। शहर के साथ ही सैलाना और जावरा की मंडियों में भी लोगों को थोक भाव पर ही प्याज बेचे जाएंगे। बिक्री मंडी के स्पेशल काउंटर पर दोपहर दो बजे से शुरू होगी जो 5 बजे तक चलेगी। प्याज का जिस दिन जो थोक भाव होगा, उसी आधार पर लोगों को प्याज मिलेंगे।

एक दो किलो प्याज रोज बिक जाए तो बड़ी बात है - पैलेस रोड पर 25 सब्जी विक्रेता हैं। इसमें से अब 5 सब्जी विक्रेता ही प्याज बेच रहे हैं। बाकी ने बढ़ते भाव के कारण प्याज बेचना बंद कर दिया है। इसकी वजह महंगे भाव के कारण बिक्री नहीं होना है। सब्जी बेचने वाले विक्रेता रमेशसिंह ने कहा प्याज इतने महंगे हैं कि भाव सुनकर कोई खरीद ही नहीं रहा है। एक दो किलो प्याज रोज बिक जाए तो बड़ी बात है।

प्याज बेचने को तैयार हैं - मिर्च लहसुन व्यापारी संघ अध्यक्ष मोतीलाल बाफना ने बताया प्रशासन से जो निर्देश मिले हैं। उस आधार पर सभी व्यापारी प्याज बेचने को तैयार हैं। हम प्रशासन को पूरा सहयोग करेंगे। प्याज के थोक विक्रेता मोहनलाल मुरलीवाला ने बताया कि हम जनता की सेवा को तैयार हैं। जिस भाव पर हम प्याज खरीदेंगे उसी भाव पर ही बेचेंगे।

दूसरे जिलों में छापामार कार्रवाई, यहां खामोशी
राज्य सरकार ने स्टाॅक लिमिट तय कर रखी है। थोक व्यापारी 500 क्विटंल से ज्यादा का स्टाॅक नहीं रख सकते। वहीं फुटकर कारोबारी 100 क्विंटल से ज्यादा स्टाॅक नहीं रख सकते हैं। यही नहीं व्यापारियों को दुकान और गोदामों पर स्टाॅक की उपलब्धता की जानकारी लिखना है लेकिन व्यापारियों के यहां स्टाॅक की जानकारी नहीं लिखी है। बढ़ती कीमत और कालाबाजारी को देखते हुए अन्य जिलों में छापामार कार्रवाई हो रही है। लेकिन हमारे यहां अधिकारियों ने गोदामों पर जाकर चेक नहीं किया है कि व्यापारियों के पास स्टाॅक है या नहीं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना